TC Full Form

TC full form – Transfer Certificate होता है, जिसे हिंदी में स्थानांतरित प्रमाण पत्र भी कहते हैं। जब एक छात्र किसी एक दूसरे विद्यालय से दूसरे विद्यालय में पढ़ने के लिए जाता है तो उसे एक सर्टिफिकेट की आवश्यकता पड़ती है जिसे ट्रांसफर सर्टिफिकेट कहते हैं। ट्रांसफर सर्टिफिकेट विद्यार्थी को स्कूल द्वारा दिया जाता है, स्कूल कॉलेज ऑफिस आदि जगहों में ट्रांसफर सर्टिफिकेट को TC कहा जाता है जिसका शॉर्ट फॉर्म मे TC कहा जाता है। जब कभी भी कोई विद्यार्थी किसी एक स्कूल से दूसरे स्कूल में जाता है तो उसके एडमिशन के समय ट्रांसफर सर्टिफिकेट मांगा जाता है उस ट्रांसफर सर्टिफिकेट के माध्यम से विद्यार्थी का नाम दूसरे विद्यालय में एड किया जाता है।

TC Full Form

आप सभी लोगों ने TC के बारे में तो जरुर सुना होगा, क्योंकि लोगों को इसकी जरूरत कभी ना कभी जरूर अपनी जिंदगी में पढ़ती है। आप सभी लोगों ने देखा होगा कि इसका ज्यादातर प्रयोग स्कूल कॉलेज में किया जाता है क्योंकि जब एक विद्यार्थी किसी एक कॉलेज या स्कूल से किसी दूसरे कॉलेज है स्कूल में जाना चाहता है उसे समय उस विद्यार्थी को ट्रांसफर सर्टिफिकेट की जरूरत पड़ती है।

जिसे हम शॉर्ट फॉर्म में TC कहते हैं। ट्रांसफर सर्टिफिकेट एक महत्वपूर्ण दस्तावेज होता है जब आप किसी स्कूल में एडमिशन लेने जाते हैं तो वहां पॉसिबल द्वारा डॉक्यूमेंट में ट्रांसफर सर्टिफिकेट को अवश्य मांगा जाता है इसलिए आप लोगों को अपने ट्रांसफर सर्टिफिकेट का ध्यान रखना चाहिए। क्योंकि जब कभी भी आप किसी कॉलेज में एडमिशन लेने जाएंगे तो आपसे ट्रांसफर सर्टिफिकेट जरूर मांगा जाएगा।

आप जिन लोगों को TC full form के बारे में जानकारी प्राप्त है वह अच्छी बात है लेकिन जिन व्यक्तियों को TC full form के बारे में जानकारी प्राप्त नहीं है उनके लिए चिंता की कोई बात नहीं आप हमारे साथ इस आर्टिकल में अंत तक बने रहिए और हम आपको बताएंगे की TC full form क्या होता है।

आप क्या जानेगे

TC Full Form

हम सभी जानते हैं कि प्रत्येक व्यक्ति को TC full form के बारे में जानकारी प्राप्त नहीं होती है, क्योंकि सभी व्यक्ति को सभी प्रकार की जानकारी मालूम नहीं होती है। इसलिए हमने सोचा क्यों ना आपको TC full form से संबंधित विषय पर जानकारी उपलब्ध कराई जाए। 

जिससे आप सभी के मन आ रहे TC full form पर संबंधित सवाल जैसे की TC full form क्या होता है TC की जरूरत कहां पड़ती है TC क्या है TC full form इन हिंदी आदि। आप लोग जरूर TC full form पर जानकारी प्राप्त करने के लिए हमारे इस आर्टिकल को आए हैं तो आप बिल्कुल सही आर्टिकल पढ़ने आए हैं क्योंकि हम इस आर्टिकल में आपको TC full form पर ही जानकारी बताने वाले हैं।

इस पोस्ट में मैं आपको TC full form क्या है के बारे में बताने वाला हूं, लोग अपनी आसानी के लिए ट्रांसफर सर्टिफिकेट के स्थान पर TC का प्रयोग करते हैं। लेकिन आप इस बात से बिल्कुल भी चिंतित मत हुई  हम आपको ट्रांसफर सर्टिफिकेट एवं TC full form पर जानकारी बताने वाले हैं। अगर आप लोग भी TC full form पर अलग-अलग प्रकार की जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो हमारे साथ इस आर्टिकल में अंत तक जरूर बने रहे।

TC full form

TC full form Transfer Certificate होता है, जिसे हिंदी में स्थानांतरित प्रमाण पत्र भी कहते हैं।

T :- Transfer

C :- Certificate

TC का सबसे सही फुल फॉर्म नहीं होता है लोग अपनी आसानी के लिए TC के अलग-अलग फुल फॉर्म बताते हैं।लेकिन अधिकतर स्थान पर TC का फुल फॉर्म ट्रांसफर सर्टिफिकेट ही use किया जाता है इसके अलावा TC के अन्य फुल फॉर्म होते हैं जैसे की टोटल कॉस्ट, टेक केयर,टिकट कलेक्टर आदि।

ट्रांसफर सर्टिफिकेट (TC)क्या है?

TC full form

जैसे कि हम आपको पहले ही बता चुके हैं की TC का पूरा नाम ट्रांसफर सर्टिफिकेट होता है जैसे हिंदी में स्थानांतरित प्रमाण पत्र कहते हैं।जब एक छात्र किसी एक दूसरे विद्यालय से दूसरे विद्यालय में पढ़ने के लिए जाता है तो उसे एक सर्टिफिकेट की आवश्यकता पड़ती है जिसे ट्रांसफर सर्टिफिकेट कहते हैं।

ट्रांसफर सर्टिफिकेट विद्यार्थी को स्कूल द्वारा दिया जाता है, स्कूल कॉलेज ऑफिस आदि जगहों में ट्रांसफर सर्टिफिकेट को TC कहा जाता है जिसका शॉर्ट फॉर्म मे TC कहा जाता है। जब कभी भी कोई विद्यार्थी किसी एक स्कूल से दूसरे स्कूल में जाता है तो उसके एडमिशन के समय ट्रांसफर सर्टिफिकेट मांगा जाता है उस ट्रांसफर सर्टिफिकेट के माध्यम से विद्यार्थी का नाम दूसरे विद्यालय में एड किया जाता है।

आपके लिए एक बात बता दूं की TC जब  मान्य होती है जब उस पर संस्था के शीर्ष अधिकारी के हस्ताक्षर होते हैं। कहने का मतलब यह है कि ट्रांसफर सर्टिफिकेट जब तक मान्य नहीं होता है जब तक उस पर विद्यालय की प्रिंसिपल की हस्ताक्षर नहीं होते हैं। खुशी प्रकाश जब आप कॉलेज या फिर ऑफिस से ट्रांसफर सर्टिफिकेट लेते हैं तो उस पर डायरेक्ट के साइन होना आवश्यक होता है। अगर इस पर संस्था के अधिकारी के साइन नहीं है तो यह सर्टिफिकेट मान्य नहीं होता है।

आपके लिए एक और महत्वपूर्ण बात यह है कि जब आप किसी एक पुरानी संस्था से दूसरे संस्था में एडमिशन के लिए जाते हैं तो वहां पर आपको संस्था द्वारा प्राप्त ट्रांसफर सर्टिफिकेट की मूल कॉपी को जमा करना होता है।

ट्रांसफर सर्टिफिकेट की जरूरत कब पड़ती है?

TC full form

हम आपको आर्टिकल के शुरुआत समय में ही बता चुके हैं कि जब हम किसी एक स्कूल से दूसरे स्कूल में एडमिशन लेने के लिए जाते हैं तब हमें ट्रांसफर सर्टिफिकेट की जरूरत पड़ती है एवं इसी प्रकार जब हम किसी एक ऑफिस से दूसरे ऑफिस के लिए ट्रांसफर करते हैं तो हमें दूसरे ऑफिस में जोइनिंग करते समय ट्रांसफर सर्टिफिकेट की आवश्यकता पड़ती है।

अगर बात की जाए की TC इतनी महत्वपूर्ण क्यों होती है तो इसका अनुमानित बात से लगाया जा सकता है कि जब आप दूसरे स्कूल में एडमिशन लेने जाते हैं तो उसे समय आपसे सबसे पहले ट्रांसफर सर्टिफिकेट को मांगा जाता है अगर आपके पास ट्रांसफर सर्टिफिकेट नहीं होता है तो आपका एडमिशन नहीं किया जाता है।

इसके अलावा आपकी ट्रांसफर सर्टिफिकेट में कई जानकारी भी लिखी रहती है कि आपका स्कूल में व्यवहार कैसा था,आप पढ़ने में कैसे थे, आपकी पिछली बार कितने परसेंट अंक आए थे आदि बहुत सारी जानकारी लिखी रहती हैं।

क्या डुप्लीकेट TC बनवाई जा सकती है?

बहुत बार ऐसा भी होता है कि आपकी ओरिजिनल ट्रांसफर सर्टिफिकेट कहीं पर खो जाता है, तो आपके मन में यह सवाल आने लगता है कि क्या हम डुप्लीकेट TC बनवा सकते हैं तो हां आप लोग डुप्लीकेट डीसी बनवा सकते हैं इसके लिए आपको अपने विद्यालय मैं आवेदन देना होता है इसकी पश्चात आपकी प्रिंसिपल आपके लिए एक डुप्लीकेट TC वनवाते हैं।

FAQs

TC Full Form in WhatsApp

आप सभी लोग देखते हैं कि जब आप किसी से व्हाट्सएप में चैटिंग करते हैं तो TC शब्द का प्रयोग करते हैं व्हाट्सएप चैटिंग में TC का फुल फॉर्म टेक केयर होता है।

TC full form in english 

TC full form इंग्लिश मे Transfer Certificate होता है, जिसे हिंदी में स्थानांतरित प्रमाण पत्र भी कहते हैं।
T :- Transfer
C :- Certificate

TC full form in railway 

TC का फुल फॉर्म रेलवे में टिकट कलेक्टर होता है। जिसका कार्य रेलवे स्टेशन पर टिकट को चेक करना होता है।

TT बनने के लिए आपकी उम्र कितनी होनी चाहिए?

TC बनने के लिए आपकी उम्र 18 से 30 वर्ष होनी चाहिए एवं इसके अलावा आपकी कक्षा 12वीं में 50% से अधिक अंक प्राप्त होने चाहिए।

निष्कर्ष

तो दोस्तों हम उम्मीद करते हैं कि आपको हमारे इस आर्टिकल में नहीं जानकारी प्राप्त करने को मिली होगी एवं आप लोगों को TC full form के बारे में जानकारी मिल गई होगी आपके मन में जितने भी डाउट थे वह सभी क्लियर हो गए होंगे। हमारे इस आर्टिकल लिखने का प्रमुख उद्देश्य यही है कि आप लोगों को TC full form पर जानकारी उपलब्ध कराई जाए इसलिए हमने आप लोगों को लेकर यह आर्टिकल लिखें।

Also Read These Post

IIT Full Form

TVS Full Form

RIP Full Form In Hindi

MLA Full Form In Hindi

COP Full Form

PHD Full Form

ADCA Full Form

SDM Full Form

LLB Full Form

IIIT Full Form

EWS Full Form

BTC Full Form

RAS Full Form

MA Full Form

UFO Full Form

DDA Full Form

DG Full Form

DFO Full Form

KGF Full Form

GRP Full Form

NACH Full Form In Hindi

SDM Full Form In Hindi

BMS Full Form In Medical

UP Full Form

SP Full Form In Hindi

PTO Full Form In Hindi

PC Full Form In Police

BMS Full Form In Medical

GRP Full Form

NACH Full Form In Hindi

SDM Full Form In Hindi

MM Full Form

BDO Full Form

TV Ka Full Form

NPTL Full Form

PG Ka Full Form

BLO Full Form

HP Ka Full Form

BSD Full Form

APS Full Form

DOC Full Form

TET Ka Full Form

DMLT Ka Full Form

BAR Full Form

GATE Full Form

LDC Full Form

CCE Full Form

NASA Full Form In Hindi

MIDC Full Form

CCE Full Form

LDC Full Form

NASA Full Form In Hindi

MIDC Full Form

SSF Full Form

PSD Full Form

POV Meaning In Hindi

HOD Full Form

CBS Full Form

FSC Full Form

NIT Full Form

DGM Full Form

ADO Full Form

ODI Full Form

ATKT Full Form


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *