B tech full form in Hindi

हेलो दोस्तों स्वागत है आपका हमारे इस आर्टिकल में आशा करता हूं कि आप सभी लोग ठीक होंगे। इस आर्टिकल में हम एक नई जानकारी के साथ आपसे जोड़ने जा रहे हैं विद्यार्थियों को कक्षा 12वीं करने के बाद  उनके मन में यह चिंता जरूर रहती है कि वह 12वीं के बाद क्या करें वह कौन सा कोर्स करें आदि समस्याओं से उन्हें गुजरना पड़ता है ।

12वीं करने के बाद विद्यार्थियों के पास B tech, एमटेक,बीएससी बीए बीकॉम आदि बहुत सारे कोर्स होते हैं लेकिन क्या आप इनकी फुल फॉर्म जानते हैं जैसे हम चर्चा करते हैं B tech क्या होता है लेकिन विद्यार्थियों को B tech full form in Hindi में मालूम नहीं होता है, B tech क्या होता है, B tech में कौन-कौन से कोर्स होते हैं।

जैसा कि हम सभी जानते हैं बीटेक एक बैचलर डिग्री होती है जिसमे की इंजीनियरिंग का कोर्स होता है अभी आप मैथ विषय से कक्षा 12वीं की परीक्षा पास की है तो आप B.Tech इंजीनियरिंग कर सकते हैं ज्यादातर विद्यार्थी इसी विषय B tech करना ही पसंद करते हैं। तो लिए जान लेते हैं B tech full form in Hindi, बीटेक क्या होता है आदि जानकारी इस आर्टिकल में समझेंगे। तो लिए सबसे पहले शुरू करते हैं बीटेक फुल फॉर्म इन हिंदी।

Table of Contents

बीटेक क्या है? B tech KYA HAI?

B tech full form in Hindi

बीटेक एक प्रकार का अंडर ग्रेजुएट कोर्स होता है इसका फुल फॉर्म बैचलर आफ टेक्नोलॉजी होता है, इसे हम इंजीनियरिंग कोर्स भी कहते हैं। यह कोर्स 4 वर्ष का होता है इस कोर्स में आपको टेक्नोलॉजी तथा इंजीनियरिंग से संबंधित शिक्षा प्राप्त कराई जाती है। बीटेक की पढ़ाई करने के बाद विद्यार्थियों को इंजीनियरिंग की उपाधि दी जाती है।

बीटेक में भी बहुत सारे कोर्स होते हैं जैसे कि सिविल इंजीनियर, मैकेनिकल इंजीनियर, कंप्यूटर साइंस इंजीनियरिंग आदि इसके अलावा भी बहुत सारे कोर्स होते हैं। जिससे आप बीटेक कर सकते हैं। बीटेक करने के लिए आपके पास कक्षा 12वीं की परीक्षा किसी भी मान्यता प्राप्त विद्यालय से मैथ साइंस फिजिक्स केमिस्ट्री से 50% अंकों से पास होनी चाहिए।

B tech करने के लिए टॉप कॉलेज

B tech करने के लिए टॉप कॉलेज
  • इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी न्यू दिल्ली
  • इंडियन इंस्टीट्यूट आफ टेक्नोलॉजी कानपुर
  • अन्ना यूनिवर्सिटी चेन्नई
  • इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी बॉम्बे
  • एसआरएम इंस्टीट्यूट आफ साइंस एंड टेक्नोलॉजी,चेन्नई
  • नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी राउरकेला
  • वेल्लोर इंस्टीट्यूट आफ टेक्नोलॉजी,

B tech करने के लिए प्रमुख परीक्षा

B tech करने के लिए प्रमुख परीक्षा
  • JEE MAIN- IIT, NIT
  • MIT- मणिपाल इंजीनियरिंग कॉलेज के लिए केवल या परीक्षा कराई जाती है।
  • VITEEE यह परीक्षा के बाद बिट कॉलेज के लिए अप्लाई जाती है।

B tech full form in Hindi

बीटेक का फुल फॉर्म इन हिंदी में बैचलर आफ टेक्नोलॉजी होता है वही B tech का फुल फॉर्म इंग्लिश में Bachelor of Technology होता है।यह 4 साल का अंडरग्रैजुएट कोर्स होता है,इस कोर्स को करने के बाद छात्रों को इंजीनियरिंग की उपाधि दी जाती है, इस कोर्ट को बैचलर आफ इंजीनियरिंग कोर्स भी कहते हैं इस कोर्स को बनने के बाद आप M. Tech भी कर सकते हैं।

B tech एक ऐसा कैसा कोर्स होता है इसमें आपको इंजीनियरिंग तथा टेक्नोलॉजी से संबंधित विषयों को पढ़ाया जाता है B tech में भी बहुत सारे कोर्सेज होते हैं जिनमें से आपको किसी एक को सेलेक्ट करना होता है जैसे की बैचलर ऑफ कंप्यूटर साइंस,बैचलर ऑफ़ मैकेनिक साइंस बैचलर,आदि में कोर्स होते हैं।

जो विद्यार्थी टेक्नोलॉजी फील्ड में रुचि रखते हैं उनके लिए यह बहुत ही बढ़िया कोर्स होता है इसे करने के बाद आप टेक्नोलॉजी की फील्ड में एक अच्छी जाब प्राप्त कर सकते हैं।

B tech के प्रमुख कोर्सेज

B tech के प्रमुख कोर्सेज
  • सिविल इंजीनियरिंग
  • मैकेनिकल इंजीनियरिंग
  • कंप्यूटर साइंस इंजीनियरिंग
  • इलेक्ट्रिकल और इलेक्ट्रॉनिक्स इंजीनियरिंग
  • बायो-केमिकल इंजीनियरिंग
  • रासायनिक अभियांत्रिकी
  • एरोनॉटिकल इंजीनियरिंग
  • इलेक्ट्रॉनिक्स और संचार इंजीनियरिंग
  • कृषि इंजीनियरिंग
  • प्लास्टिक इंजीनियरिंग
  • बायोमेडिकल इंजीनियरिंग
  • परमाणुवीय इंजीनियरिंग
  • जनन विज्ञानं अभियांत्रिकी
  • सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग
  • ऑटोमोबाइल इंजीनियरिंग

B tech करने के लिए पात्रता 

  • विद्यार्थी  को इंटरमीडिएट की परीक्षा 50% अंकों से पास होनी चाहिए।
  • कक्षा 12वीं की परीक्षा मैथ बायोलॉजी फिजिक्स केमिस्ट्री के साथ पास होनी चाहिए।
  • ऐसे विद्यार्थी जिन्होंने पॉलिटेक्निक डिप्लोमा पास कर लिया है वही B tech सेकंड ईयर में एडमिशन ले सकते हैं।

B tech करने के लाभ 

  • अगर आप B tech कर लेते हैं तो आपको इंजीनियरिंग के क्षेत्र में एक डिग्री हासिल हो जाती है जिससे आप किसी भी प्राइवेट कंपनी में एक अच्छी जॉब प्राप्त कर सकते हैं।
  • अपनी योग्यता के आधार पर आप सरकारी एवं प्राइवेट जॉब भी कर सकते हैं आप किसी भी प्राइवेट या सरकारीकंपनी में जॉब के लिए आवेदन कर सकते हैं।
  • B tech करने के बाद आप मास्टर आफ टेक्नोलॉजी कोर्स भी कर सकते हैं।

B tech में कराए जाने वाले प्रमुख कोर्स एवं उनसे संबंधित महत्वपूर्ण जानकारी

सिविल इंजीनियरिंग

सिविल इंजीनियरिंग

B tech के अंतर्गत आपको सिविल इंजीनियरिंग का कोर्स उपलब्ध होता है जिसमें आपको सिविल इंजीनियरिंग या उससे संबंधित जानकारी प्राप्त कराई जाती है, सिविल इंजीनियर में आपको मैप,कंस्ट्रक्शन,बिल्डिंग डेवलपमेंट, बिल्डिंग मेंप  बनाना आदि विषय के बारे में जानकारी दी जाती है इसे करने के पश्चात आपको सिविल इंजीनियरिंग की डिग्री प्राप्त हो जाती है। इसके बाद आप किसी भी बड़ी सिविल कंपनी में जो आपके लिए अप्लाई कर सकते हैं और आप एक अच्छी जॉब प्राप्त कर सकते हैं।

मैकेनिकल इंजीनियर

मैकेनिकल इंजीनियर

जैसा ही इसके नाम से प्रतीत होता है कि इसमें आपको मैकेनिक से संबंधित समस्त प्रकार की जानकारी का ज्ञान कराया जाता होगा  तो आप बिल्कुल सही सोच रहे हैं क्योंकि इसमें आपको मोटर वाइंडिंग मैकेनिक, काऱ बाइडिंग, ट्रक बाइंडिंग,आदि से संबंधित विषय में जानकारी प्राप्त कराई जाती है इसमें आपको एक पूर्ण रूप से मैकेनिकल की तरह ट्रेंड किया जाता है जिससे कि आपको इस विषय में हर एक जानकारी प्राप्त हो सके।इस कोर्स को करने के बाद आपको मैकेनिकल इंजीनियर की डिग्री दी जाती है इसके बाद किसी भी प्राइवेट कंपनी मे जॉब कर सकते है।

कंप्यूटर साइंस इंजीनियरिंग

कंप्यूटर साइंस इंजीनियरिंग

कंप्यूटर साइंस इंजीनियरिंग में आपको कंप्यूटर साइंस से संबंधित समस्त प्रकार की जानकारी उपलब्ध कराई जाती है इसमें की आपको कंप्यूटर सॉफ्टवेयर,  कंप्यूटर हार्डवेयर, आउटपुट डिवाइस,इनपुट डिवाइस, आदी के बारे में समस्त प्रकार की जानकारी उपलब्ध कराई जाती है उसमें आपको कंप्यूटर को मैनेज करना एवं कंप्यूटर टेक्नोलॉजी के बारे में समस्त जानकारी प्रदान कराई जाती इससे आप एक अच्छी कंप्यूटर साइंस इंजीनियरिंग बन जाते हैं उसके बाद आपसे भी कंप्यूटर साइंस इंजीनियरिंग कंपनी में जॉब के लिए अप्लाई कर सकते हैं।

कृषि इंजीनियरिंग

कृषि इंजीनियरिंग

इसमें आपको एग्रीकल्चर इंजीनियरिंग की जानकारी दी जाती है इसमें आपको खेती उपकरण,खेती फसल, फसल चक्र फसलों के बारे में समस्त प्रकार की जानकारी उपलब्ध कराई जाती है।

बीटेक कैसे करें ?

मैथ या साइंस से कक्षा 12वीं की परीक्षा पास करें :- दोस्तों आपको B tech करने के लिए सबसे पहले आपको कक्षा 12वीं की परीक्षा मैथ एवं साइंस सब्जेक्ट से पास होनी चाहिए तभी आप B tech में एडमिशन ले सकते हैं। इसके अलावा आपको परीक्षा में 50 परसेंट से अधिक अंक प्राप्त होने चाहिए जितने अंको से आप 12वीं की परीक्षा पास करेंगे उतना ही आपको फायदेमंद होगा।

एंट्रेंस एग्जाम क्लियर करें :- अगर आप एक अच्छी सरकारी कॉलेज से B tech की पढ़ाई करना चाहते हैं तो आपको सबसे पहले एंट्रेंस एग्जाम पास करना होगा एंट्रेंस एग्जाम पास करने के बाद ही आपको इंजीनियरिंग की सबसे टॉप कॉलेज में एडमिशन दिया जाएगा यहां पर आपको हाई टेक्नोलॉजी एवं उच्च तकनीकी शिक्षा से बीटेक की डिग्री  की शिक्षा प्राप्त  कराई जाएगी।

B tech की फीस 

अगर B tech इंजीनियरिंग की फीस की बात की जाए तो वह आपके यूनिवर्सिटी या कॉलेज के ऊपर डिपेंड करती है अगर आप सरकारी कॉलेज से B tech करते हैं तो इसकी फीस कम हो सकती है वही आप अगर B tech की पढ़ाई प्राइवेट कॉलेज से करते हैं तो इसकी फीस हाई हो सकती है। अगर आप सरकारी कॉलेज से बीटेक की पढ़ाई करते हैं तो वहां की फीस 10000 से लेकर 30000 तक हो सकती है वही आप प्राइवेट कॉलेज इंजीनियरिंग की पढ़ाई करते हैं तो वहां की फीस 30000 से लेकर 100000 तक की हो सकती है। यह सब डिपेंड आपकी कॉलेज पर करता है।

FAQ

B tech फुल फॉर्म इन हिंदी में क्या होता है?

बीटेक फुल फॉर्म इन हिंदी में बैचलर आफ टेक्नोलॉजी होता है।

B tech की फीस कितनी होती है?

जैसा कि हम आपको पहले ही बता चुके हैं कि बीटेक की फीस आपके कॉलेज इंस्टिट्यूट पर डिपेंड करती है अगर आप सरकारी कॉलेज से बीटेक करते हैं तो आपकी फीस 10000 से लेकर 30000 तक के बीच में हो सकती है एवं अगर आप प्राइवेट कॉलेज से बीटेक करते हैं तो उसकी फीस 10000 से लेकर 100000 तक के बीच हो सकती है।

B tech कितने प्रकार की होती है?

B tech 10 प्रकार से होती है इसमें सिविल इंजीनियर,मैकेनिकल इंजीनियर,कंप्यूटर साइंस इंजीनियर, इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग आदि प्रमुख होते हैं।


B tech का कोर्स कितने वर्ष का होता है?

 बीटेक का कोर्स 4 वर्ष का होता है।

B tech करने के लिए कक्षा 12वीं में कितने परसेंट अंक होने चाहिए?

B tech करने के लिए कक्षा 12वीं में 50% से अधिक अंक होने चाहिए।

B tech करने के लिए क्या क्वालिफिकेशन होता है?

B tech करने के लिए आपको कक्षा 12वीं की परीक्षा मैथ साइंस से पास होनी चाहिए।


B tech करने के बाद हम क्या कर सकते हैं?

B tech करने के बाद हम M. TECH भी कर सकते हैं

निष्कर्ष

दोस्तों तो इस आर्टिकल में हमने यह जाना की B tech क्या होता है,B tech full form in Hindi, B tech फुल फॉर्म इन अंग्रेजी, B tech के प्रमुख कोर्स, B tech की टॉप कॉलेज, बीटेक के फायदे,आदि इन सभी विषयों के बारे में संपूर्ण जानकारी प्राप्त की है आशा करते हैं कि आपको हमारा यह आर्टिकल बीटेक फुल फॉर्म इन हिंदी में अच्छी तरह से समझ में आया होगा एवं यह इनफॉर्मेटिव जानकारी आपको अच्छी लगी।

अगर आपको हमारा यह आर्टिकल इनफॉर्मेटिव  और अच्छा लगा हो तो इसे अपने परिवारजन दोस्तों रिश्तेदारों के साथ तैयार करें जिससे वह भी इस जानकारी का लाभ ले सके हमें आपकी सहयोग की आवश्यकता सकता है इसलिए हमारे आर्टिकल को ज्यादा से ज्यादा लोगों के बीच शेयर करें।

Also Read These Post

SIM Port Kaise Karen

Gmail Ka Password Kaise Pata Kare

WHO Ka Full Form

Polytechnic Kya Hai

PDF Kaise Banate Hain

WIFI Ka Password Kaise Pata Kare

CDO Full Form

CDO Full Form

BSC Full Form in Hindi | BSC का फुल फॉर्म क्या होता है

Input Device Kya hai

LCD Kya Hai

अमीर कैसे बने?

VPN Kya Hai

SDS Full Form Kya Hai

OS Kya Hai

LED Kya Hai

Transformer In Hindi

LLB Full Form In Hindi

Software Kya Hai

नैनीताल में घूमने की जगह | Nainital Mein Ghumne Ki Jagah

गूगल का फुल फॉर्म क्या है? | Google ka ful form kya hai?

बल्ब का आविष्कार किसने किया?

कंप्यूटर का आविष्कार किसने किया?

चेक कैसे भरे?

समग्र आईडी कैसे सर्च करें?

12th के बाद साइंस स्टूडेंट क्या करें?

UPS क्या है?

सरकार ने लिया बड़ा फैसला कंप्यूटर लैपटॉप के आयात पर लगाया प्रतिबंध

ओडिशा स्कूल शिक्षा कार्यक्रम प्राधिकरण (OSEPA) ने जूनियर टीचर (योजनाबद्ध) भर्ती 2023 के लिए आवेदन कैसे करे?

E-Mitra PM Kisan Status कैसे चेक करे?

Speed Post क्या है?

में शिवम् राजपूत कंटेंट राइटर हू, मुझे कंटेंट राइटिंग में एक साल का अनुभव है। में टेक ,न्यूज़ ,ट्रेवल ,स्पोर्ट ,जॉब ,पोलीटिक ,एजुकेशन ,हेल्थ आदि विषयो में रूचि रखता हु | में बीए ग्रेजुएट हु और मुझे नई नई चीजे एक्स्प्लोर करना अच्छा लगता है |

Sharing Is Caring:

Leave a Comment