MNP full form

MNP full form – मोबाइल नंबर पोर्टेबिलिटी होता है, हम इस आर्टिकल में मोबाइल नंबर पोर्टिंबिलिटी क्या होता है, MNP फुल फॉर्म इन हिंदी, MNP फुल फॉर्म अंग्रेजी, MNP की आवश्यकता आदि विषय से संबंधित टॉपिक पर हम आर्टिकल में चर्चा करने वाले हैं अगर आप लोग भी यह जानना चाहते हैं कि MNP फुल फॉर्म MNP full form क्या होता है तो हमारे साथ आर्टिकल MNP full form में अंत तक जरूर बन रहे।

नमस्कार भाइयों और बहनों स्वागत है आपका हमारे इस ब्लॉक में आशा करता हूं कि आप सभी लोग ठीक होंगे। हमेशा आर्टिकल में MNP फुल फॉर्म से संबंधित बहुत सारे विषय पर चर्चा करने वाले हैं  जो प्रश्न लेकर आप हमारी वेबसाइट पर आए हैं उनसे हम आपको इस आर्टिकल में अवगत करवाएंगे। ऐसे बहुत सारे लोग होते हैं जिन्हें शायद की MNP फुल फॉर्म से संबंधित जानकारी प्राप्त होती है लेकिन अधिकतर लोग ऐसे होते हैं जिन्हें  MNP फुल फॉर्म से संबंधित किसी प्रकार की कोई जानकारी प्राप्त नहीं होती है।

MNP full form

आप लोग बिल्कुल भी परेशान मत होइए और ना ही कहीं पर जाइए आप हमारे साथ इस आर्टिकल में अंत तक बने रहिए क्योंकि हम आपको इस आर्टिकल में MNP फुल फॉर्म से संबंधित समस्त प्रकार की जानकारी से अवगत कराने वाले हैं। हम पूरा प्रयास करेंगे कि आप जिन प्रश्नों को लेकर हमारी वेबसाइट पर आए हैं उन सभी के उत्तर आपको हमारे इस आर्टिकल में प्राप्त हो सके।

MNP का पूरा नाम मोबाइल नंबर पोर्टेबिलिटी होता है, मोबाइल नंबर पोर्टेबिलिटी या मोबाइल अंक सहायता इसके द्वारा उपभोक्ता को अपना मोबाइल नंबर बदले बिना सेवा प्रदाता की कंपनी बदलने की सुविधा मिलती है। दोस्तों तो यह थी मोबाइल नंबर पोर्टेबिलिटी से संबंधित विषय पर सामान्य जानकारी जिससे कि आप MNP के बारे में कुछ जानकारी जरूर समझ में आ गई होगी। लेकिन अगर आपके मन में अभी भी कोई डाउट है तो हम आपको नीचे आर्टिकल में इससे संबंधित समस्त प्रकार की जानकारी देने वाले हैं।

हम क्या जानेगे

अगर आप MNP फुल फॉर्म MNP full form से संबंधित किसी भी प्रश्न या MNP फुल फॉर्म से संबंधित किसी भी जानकारी को सर्च करते हुए हमारी वेबसाइट पर आए हैं तो आप बिल्कुल सही जगह पर आए हैं क्योंकि हम इस वेबसाइट में MNP फुल फॉर्म से संबंधित विषय पर ही चर्चा करने वाले हैं। तो आप लोग कहीं पर मत जाइए हम आपको नीचे आर्टिकल में इससे संबद्ध समस्त प्रकार की जानकारी देने वाले हैं।

दोस्तों अब आपके मन में MNP फुल फॉर्म से संबंधित कई प्रकार के प्रश्न आ रहे होंगे और प्रश्न आना स्वाभाविक भी है क्योंकि हम इसके बारे में जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं। इसलिए आपके मन में MNP फुल फॉर्म संबंधित विषय पर प्रश्न जरूर उठ रहे होंगे इन प्रश्नों के उत्तर हम आपको इस आर्टिकल से अवगत कराने वाले हैं इसलिए आपसे निवेदन है कि हमारा आर्टिकल पूरा जरूर पढ़ें।

हम इस आर्टिकल में MNP फुल फॉर्म MNP full form से संबंधित प्रश्न जैसे कि MNP फुलफॉर्म इन हिंदी, MNP क्या होता है, MNP फुल फॉर्म इन अंग्रेजी, MNP की आवश्यकता आदि प्रमुख टॉपिक पर चर्चा करने वाले हैं अगर आप लोग भी MNP फुल फॉर्म से संबंधित किसी भी प्रकार की जानकारी को मिस नहीं करना चाहते हैं तो हमारे इस आर्टिकल MNP full form में अंत तक जरूर बने हैं।

MNP full form

MNP full form

MNP का full form mobile number portability होता है, जिसे हिंदी भाषा में मोबाइल अंक  सुलभता कहा जाता है।मोबाइल नंबर पोर्टेबिलिटी या मोबाइल अंक सहायता इसके द्वारा उपभोक्ता को अपना मोबाइल नंबर बदले बिना सेवा प्रदाता की कंपनी बदलने की सुविधा मिलती है।

M :- Mobile

N :- Number

P :- Portibility 

दोस्तों जैसा कि हम सभी लोग जानते हैं एमएनपी के बहुत सारे फुल फॉर्म होते हैं लेकिन उनमें से सबसे ज्यादा प्रयोग किया जाने वाला फुल फॉर्म मोबाइल नंबर पोर्टेबिलिटी होता है इसलिए हमने इस आर्टिकल में आपके मोबाइल नंबर पोर्टिबिलिटी से संबंधित विषय पर ही जानकारी प्राप्त कराया।

मोबाइल नंबर पोर्टेबिलिटी क्या होती है?

MNP full form

MNP का full form mobile number portability होता है, जिसे हिंदी भाषा में मोबाइल अंक  सुलभता कहा जाता है। मोबाइल नंबर पोर्टेबिलिटी या मोबाइल अंक सहायता इसके द्वारा उपभोक्ता को अपना मोबाइल नंबर बदले बिना सेवा प्रदाता की कंपनी बदलने की सुविधा मिलती है।

भारत में यह सेवा 20 जनवरी 2022 को लागू की गई थी, इसके पूर्व भारत में सेवा छोटे स्तर में सबसे पहले हरियाणा राज्य में प्रारंभ की गई थी।

साधारण शब्दों में कहा जाए तो सेवा में आप अपनी सिम को 90 दिनों की पश्चात किसी भी दूसरी कंपनी के साथ बदल सकते हैं जिसमें आपका नंबर वही रहता है सिर्फ आपकी कंपनी की सिम बदल जाती है।

मोबाइल नंबर पोर्टेबिलिटी  के अंतर्गत दी जाने वाली सुविधाएं :-

मोबाइल नंबर पोर्टेबिलिटी सेवा के अंतर्गत आपको उपलब्ध कराए जाने वाली प्रमुख सेवाएं इस प्रकार है।

  • भारत में उपस्थित किसी भी मोबाइल नंबर सेवा के प्रदाता कंपनी को वंचित क्षेत्र में कार्यरत किसी अन्य सेवा प्रदाता कंपनी के साथ बदला जा सकता है।
  • इस सुविधा के द्वारा CDMA नंबर को दूसरी कंपनी के साथ जीसीएम कंपनी के साथ बदला जा सकता है।
  •  मोबाइल नंबर पोर्टेबिलिटी सेवा के अंतर्गत कोई भी ग्राहक 90 दिनों की पश्चात अपने सिम को किसी भी दूसरी कंपनी के सिम में कन्वर्ट कर सकता है।
  • 90 दिन पश्चात आप किसी भी दूसरी कंपनी के साथ जोड़ सकते हैं।
  • जब आप किसी दूसरी कंपनी के साथ जुड़ते हैं तो आपको आपका वहीं पर वाला नंबर दिया जाता है इसमें आपका नंबर को चेंज नहीं किया जाता है।

MNP सेवा की उपयोग विधि

MNP full form
MNP full form 6

मोबाइल नंबर पोर्टेबिलिटी सुविधा को उपयोग करने के लिए प्रयोग की जाने वाली विधि इस प्रकार है।

  •  सबसे पहले आपको अपने मोबाइल नंबर के मैसेज बॉक्स में जाकर एक मैसेज टाइप करना होता है जिसमें आपको पोर्ट फिर आपको मोबाइल नंबर डालना होता है। फिर इसके बाद आपको  1900 पर इसे सेंड करना होता है।
  •  जैसे ही आप मैसेज भेजते हैं ग्राहक को आठ अंकों का यूपीसी कोड प्राप्त होता है।
  • इस कोड को आपको आप जिस कंपनी में आप अपनी सिम को पोर्ट करना चाहते हैं वहां पर जाकर ग्राहक सेवा में जमा करना होता है या देना होता है।
  • इसके बाद ग्राहक सेवा केंद्र वाला आपकी कागजाति दस्तावेज प्रक्रिया पूरी करके आपको एक नई सिम देगा।
  •  इसके पहले यह भी कॉन्फ्रेंम किया जाता है कि आपकी पुरानी सिम पर किसी भी प्रकार का कोई बिल तो बकाया नहीं था।
  • कंपनी पुराने नंबर पर ही सिम बदलाव का मैसेज भेजेगा।
  • इसके बाद आपकी नई सिम चालू हो जाएगी।

MNP सेवा की  सीमा

सेवा प्रदाता कंपनियों के हितों को ध्यान में रखते हुए मोबाइल नंबर पोर्टेबिलिटी की भी कुछ सीमा निर्धारित की गई है।

  • उपभोक्ता जब भी किसी नई सेवा प्रदाता कंपनी के पास जाता है तो यह चेक किया जाता है कि आपकी पुरानी सिम पर किसी भी प्रकार का कोई बिल बकाया तो नहीं था अगर कोई बिल बकाया होता है तो आपको उसे 90 दिनों में भरना होता है नहीं तो नहीं कंपनी आपकी सिम बंद कर देती है।
  • किसी भी कंपनी की उपभोक्ता को कम से कम 90 दिनों तक सेवा लेनी होती है इसके पश्चात  किसी दूसरी कंपनी में वह सिम को बदल सकता है।
  • पुरानी कंपनी कि राशि नई कंपनी पर जाने पर इस सीमा को आगे नहीं बढ़ाया जाता है।

FAQs

एमएनपी को कितने दिन चाहिए होते हैं?

MNP के नए नियम के अनुसार अगर कोई ग्राहक एक ऑपरेटर से दूसरी ऑपरेटर में जाता है तो इस प्रक्रिया को पूरा होने में 3 दिन से लेकर 7 दिन का समय तक लग सकता है।

MNP full form in english 

MNP का full form mobile number portability होता है, जिसे हिंदी भाषा में मोबाइल अंक  सुलभता कहा जाता है।
M :- Mobile
N :- Number
P :- Portibility 

MNP full form in hindi 

MNP का फुल फॉर्म मोबाइल नंबर पोर्टबिलिटी होता है, जिसे हिंदी भाषा में मोबाइल अंक  सुलभता कहा जाता है।
M :- Mobile
N :- Number
P :- Portibility

MNP सेवा लेने के लिए आपको कितने दिनों तक किसी भी सिम का प्रयोग करना होता है।

अगर आप एमएनपी सेवा का आनंद लेना चाहते हैं तो इसके लिए आपको किसी भी सिम का 90 दिन तक प्रयोग करना होता है।

सिम पोर्ट करवाने के लिए किन दस्तावेजों की जरूरत पड़ती है?

सिम पोर्ट करवाने के लिए निम्नलिखित दस्तावेजों की जरूरत पड़ती है।
आधार कार्ड
मोबाइल नम्बर

समापन 

दोस्तों उम्मीद करता हूं कि आपको आज की हमारी यह MNP full form पोस्ट पसंद आई होगी हमने इस आर्टिकल में यह जाना की MNP फुल फॉर्म क्या होता है। हमने इस आर्टिकल में एमएनपी फुल फॉर्म MNP full form से संबंधित विषय जैसे कि MNP फुल फॉर्म इन, हिंदी फुल फॉर्म इन अंग्रेजी, MNP के उपयोग, MNP के उपयोग करने की विधि, आदि विषय में हमने विस्तृत रूप से जानकारी प्राप्त की है आशा करते हैं कि आप जिन प्रश्नों को लेकर हमारी वेबसाइट पर आए थे उन सभी प्रश्नों के उत्तर आपको हमारी इस वेबसाइट में उपलब्ध हो सके होंगे।

आप लोग हमें नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट करके यह जरूर बता सकते हैं कि आपको यह हमारा आर्टिकल MNP full form कैसा लगा अगर आपको हमारा आर्टिकल अच्छा लगा हो तो आप लोग इसे लाइक एवं शेयर भी कर सकते हैं।

Also Read These Post

DEO Full Form

BPCL Full Form

JD Full Form

TL Full Form

DOP Full Form

OYO Full Form In Hindi

Facebook Kisne Banaya

IMV Full Form In Hindi

Facebook Kisne Banaya

CG Full Form

LLB Kitne Saal Ka Hota H

BA Full Form In Hindi

Bank Me Job Kaise Paye

Network Marketing Kya Hai

Google Kaun Hai

BPO Full Form In Hindi

इंस्टाग्राम कैसे चलाये। How To Use Instagram

SI Kaise Bane

MTS Full Form In Hindi

MSW Full Form In Hindi

BSC Nursing Kya Hai?

PHD Kaise Kare

BCA Kya Hota Hai

CBSE Full Form In Hindi

CSC ka full form in Hindi

Cupping Therapy Kya Hai ?

देर से शादी करने के नुकसान

Passport Banane Ke Liye Documents

Aadhar Card Kaise Banaen

MPPSC Full Form

CTET Full Form In Hindi

MBBS Full Form In Hindi

BPSC Ka Full Form

Biology In Hindi

Protocol In Hindi

प्रिंटर क्या है?

SSC full form in hindi

CPU Kya Hai

Tally Kya Hai

LCD Kya Hai

में शिवम् राजपूत कंटेंट राइटर हू, मुझे कंटेंट राइटिंग में एक साल का अनुभव है। में टेक ,न्यूज़ ,ट्रेवल ,स्पोर्ट ,जॉब ,पोलीटिक ,एजुकेशन ,हेल्थ आदि विषयो में रूचि रखता हु | में बीए ग्रेजुएट हु और मुझे नई नई चीजे एक्स्प्लोर करना अच्छा लगता है |

Sharing Is Caring:

Leave a Comment