तेलंगाना की राजधानी

तेलंगाना की राजधानी

तेलंगाना भारत का 28 वां राज्य था  इसकी स्थापना 2 जून 2014 को की गई थी यह आंध्र प्रदेश से अलग होकर एक नया राज्य बना था। हैदराबाद को 10 साल के लिए  तेलंगाना एवं आंध्र प्रदेश की संयुक्त राजधानी बनाया गया था। यहां पर तेलुगु भाषा बोली जाती है  तेलंगाना का शाब्दिक अर्थ होता है तेलुगू भाषियो की भूमि। तेलंगाना में द्विसदनात्मक विधानसभा है जावर विधान परिषद एवं विधानसभा है विधानसभा में 119 सीटें हैं एवं विधान परिषद में 40 सीटें हैं। तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव हैं यहां के तमिलिसै सौंदरराजन है।तेलंगाना को राज्यसभा मे 7 एवं लोकसभा मे 17 सीटें है।यहां की आधिकारिक राज्य भाषा तेलगु है।

वर्तमान में तेलंगाना में जिलों की संख्या 31 है तेलंगाना देश का राज्य है जो की आंध्रप्रदेश से अलग होकर बनाया गया था. तेलंगाना की सीमा महाराष्ट्र, आंध्रप्रदेश, तमिलनाडु से सीमा बनता है। तेलंगाना की संयुक्त राजधानी हैदराबाद  है. तेलंगाना का अर्थ होता है तेलगुभाषियो की भूमि इसलिए इसे तेलंगाना कहा जाता है.इसकी स्थापना 2 जून 2014 को की गयी थी यहां के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव है वही इसके राज्यपाल तमिलसेे सौदरराजन है।यहाँ पर लोकसभा की 17 सीटें है। तेलंगाना एक खूबसूरत राज्य है। जहाँ पर आप घूमने भी जा सकते है।

हैदराबाद

हैदराबाद तेलंगाना की राजधानी एवं वहां का सबसे बड़ा शहर है यह मुसी नदी के किनारे बसा हुऐ शहर है। यह भारत का सबसे चौथा आबादी बाला शहर है हैदराबाद के निजाम का शहर और मोतियों का शहर कहा जाता है यह भारत के सर्वाधिक विकसित नगरों में से एक है हैदराबाद चारमीनार के लिए भी  पूरे भारत में प्रसिद्ध है।

तेलंगाना की राजधानी

तेलंगाना का सबसे बड़ा शहर एवं यहां की राजधानी भी है यहा पर स्थित चरमीणार इसकी खूबसूरती मे चार चाँद लगाता है यहा की विरयानी पुरे भारत मे प्रसिद्ध है हैदराबाद मे पर्यटन स्थलों की कोई कमी है हैदराबाद शुरुआत से ही संस्कृति एवं कला का केंद्र रहा है यहा पर स्थित मीनर एवं इमरते यहां के प्रमुख स्थान है।

हैदराबाद मे घूमने की जगह

1 :- गोलकुंडा का किला

2 :- हुसैन सागर झील

3 :- चारमीनर

तेलंगाना के अन्य प्रमुख शहर

तेलंगाना के अन्य प्रमुख शहर

वारंगल :- वारंगल भी तेलंगाना का एक नगर जिसका पुराना नाम ओंरुगल्लू था 1948 मे भारत मे मिल गया था यहां पर मंदिर एवं मस्जिद की सख्या बहुत ज्यादा है क्योंकि यहां पर मुस्लिम आबादी बहुत ज्यादा है.

वारंगल  के प्रमुख स्थान

1 :- हज़ार स्तनभ

2 :- वारंगल का किला

3 :- भद्रकाली मंदिर

4 :- रामप्पा मंदिर

निज़ामबाद :- निज़ामबाद तेलंगाना का प्रमुख शहर है  यह हैदराबाद के उत्तर पश्चिम मे 170 km की दुरी पर स्थित है इसे इंद्रपूरी के नाम से भी जाना जाता है यहाँ पर राष्ट्रकुटो का शासन रहा है

निज़ामबाद मे घूमने के लिए प्रमुख स्थान

1 हनुमान मंदिर

2 नीला काटेंश्वर मंदिर

3 सरस्वती मंदिर

3 रघुनाथ मंदिर

तेलंगाना की अन्य जानकारी

तेलंगाना की अन्य जानकारी

तेलंगाना की संस्कृति  :- तेलंगाना में बरसों तक  राजा का शासन रहा हैदराबाद में निजाम का शासन था। इसलिए यहां की संस्कृति पुराने रीति-रिवाजों पर चलती है। अगर आप तेलंगाना जाते हैं। तो वहां की संस्कृति को जानने का अच्छे से मौका मिलेगा यहां पर आपको क़ुतुब, मुग़ल, फारसी  परंपराओं का मिश्रण मिलेगा।

 तेलंगाना का रहन सहन :- यहां का रहन-सहन बहुत ही साधारण सरल है यहां के लोग बहुत ही उदार है। यहां के लोगों का जीवन खेती पर निर्भर है। अर्थव्यवस्था में बहुत योगदान है  यहां पर मुक्ता चावल की खेती की जाती है। तेलंगाना कपास उत्पादन के लिए भी जाना जाता है।

 तेलंगाना के प्रमुख त्योहार  :- तेलंगाना में त्योहारों को बहुत पारंपरिक एवं धार्मिक रूप से बनाया जाता है। यहां का प्रमुख त्योहार बतकम्मा पंडुगा है।जिसे दशहरा के समय मनाया जाता है बोनालू यहां के प्रमुख त्योहारों में से एक है। इस त्यौहार में महाकाली की पूजा की जाती है। इसके अलावा तेलंगाना में सदर त्यौहार, मोहर्रम, गणेश पूजा भी धूमधाम से मनाया जाता है।

 तेलंगाना की पोशाक  :- तेलंगाना की पोशाक का अपना एक अलग अंदाज है। यहां की महिला लंगा बोनी एवं साड़ी पहनती है। के अलावा यहां पर महिलाएं सलवार चूड़ीदार भी पहनती है। यहां के लोग त्योहार पर पंच एवं धोती पहनते हैं।

 तेलंगाना का नृत्य  :- तेलंगाना का प्रमुख नृत्य तेरिणी शिव तांडव है यह एक बहुत ही पुराना नक्षत्र है जिसका अर्थ होता है योद्धाओं का नृत्य। इसके अलावा यहां पर नृत्यभी किए जाते हैं।

FAQ

तेलंगाना का राजकीय त्यौहार क्या है?

तेलंगाना का राजकीय त्यौहार बोनालू या महाकाली बोनालू है।

तेलंगाना का पुराना नाम क्या है?

 तेलंगा  गाना का पुराना नाम है।

तेलंगाना की राजकीय भाषा क्या है?

तेलंगाना की राजकीय भाषा तेलुगु है।

तेलंगाना का राजकीय वृक्ष क्या है?

तेलंगाना का राजकीय वृक्ष जम्मी चिट्ठी है।

तेलंगाना में कुल कितने जिले हैं?

तेलंगाना में कुल 33 जिले हैं।

Conclusion :- दोस्तों आपको हमने साठिका ने बताया कि  तेलंगाना की राजधानी क्या है एवं तेलंगाना है।जुड़े तथ्यों को भी स्पष्ट किया है  अगर आपको कोई डाउट हो तो हमें कमेंट करके जरूर बताएं।

Also Read These Post

SBI ATM form kaise bhare

laptop me wifi kaise connect kare

How To Generate ATM PIN For SBI

How To Type In Hindi In Laptop

Mobile Se ATM Pin Kaise Banaye

Recharge Karne Wala Apps

Google ka password Kaise Dekhe

आई फ्लू क्या है ?

Verification code kya hai

Mobile ka lock Kaise tode?

JIO sim band kaise kare

Photo ko PDF kaise banaye

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *