Chana Badam Aur Kishmish Khane Ke Fayde | (चना, बादाम और किशमिश खाने के फायदे)

ये तीनों ही हमारी हेल्थ के लिए बहुत फायदेमंद हैं। इन तीनों मे भरपुर मात्रा मे पोशाक तत्व पाए जाते हैं, जो की हमारी बॉडी के लिए बहुत ही जरूरी हैं। हमरे शरीर मे कई कमियों को ये तीनों दूर करने का काम करते हैं। इनको खाने के फायदे बहुत सारे हैं। और यह तीनों बहुत सारे स्वास्थ्य लाभ प्रदान करता है।

इन तीनों को सेहतमंद आहार माने जाते है, जिसमें विटामिन, खनिज, प्रोटीन, आयरन, फाइबर और अन्य कई पोषक तत्व पाए जाते हैं। 

आइए हम तीनों के बारे मे एक एक करके सारी बाते और जानकारी जानते हैं। ये जानकारी आपके लिए बहुत आवश्यक हैं, आपको इस आर्टिकल को रीड करके बहुत अच्छा knowledge Achieve करेंगे।

Table of Contents

चना मे पाए जाने वाले पोशाक तत्व:

चने में फोलिक एसिड, फाइबर, विटामिन, प्रोटीन, खनिज जैसे कैल्शियम, मैग्नीशियम, पोटैशियम, आयरन, फोस्फोरस, आदि मौजूद होते हैं। जो की हमारे शरीर के विभिन्न अंगों के लिए बहुत important होते है।

चना खाने के फायदे

चना खाने के फायदे:

1. डायबिटीज कंट्रोल: 

इसे खाने से ब्लड शुगर के स्तर को कंट्रोल करने में हेल्प मिलती है, जिससे डायबिटीज के management में हेल्प मिलती है।

2. वैट कंट्रोल: 

इसमे प्रोटीन और फाइबर की मात्रा भरपूर मात्रा मे होती है, जो भोजन को अधिक समय तक digest में हेल्प करता है और भूख को कम करने में हेल्प करता है, जिससे वैट कंट्रोल रखने में हेल्प मिलती है।

3. इम्यून सिस्टम स्ट्रॉंग रहता हैं: 

इसका सेवन करने से रोग प्रतिरोधक (Immunity) क्षमता मजबूत होती है। क्योंकि चना में पोषक तत्वों का भंडार है। इसलिए इसका सेवन करने से इम्यून सिस्टम मजबूत होता है। जिससे आप कई बीमारियों से बच सकते हैं।

4. हृदय स्वास्थ्य: 

चने में मौजूद फोलिक एसिड, मैग्नीशियम और पोटैशियम दिल के स्वास्थ्य को सुधारने में मदद कर सकते हैं और हृदय संबंधी बीमारियों को रोकने में मदद करते हैं।

5. पाचन तंत्र को सुधारना: 

चने में फाइबर की अच्छी मात्रा होती है, जो digestive system को सुधारने में हेल्प करती है और कब्ज (Constipation) की समस्या से राहत देती है।

6. शरीर की मजबूती: 

चने में प्रोटीन और आयरन की अच्छी मात्रा होती है, जो मांसपेशियों और हेमोग्लोबिन के निर्माण में मदद करते हैं, जिससे शरीर की मजबूती बढ़ती है।

बादाम मे पाए जाने वाले पोशाक तत्व:

बादाम में भरपूर मात्रा मे ओमेगा-3 फैटी एसिड, कैल्शियम, पोटैशियम, मैग्नीशियम, आयरन, विटामिन के, विटामिन ई, प्रोटीन, कॉपर, फाइबर और जिंक आदि पाये जाता है।

बादाम खाने के फायदे

बादाम खाने के फायदे:

1. एनीमिया पर कंट्रोल :

आयरन, कॉपर और विटामिन से भरपूर होने की वजह से एनीमिया पर कंट्रोल में मदद मिल सकती है।

2. हड्डियों के लिए लाभदायक: 

इसमे कैल्शियम, मैग्नीशियम, और पोटैशियम की अच्छी मात्रा होती है, जो हड्डियों को मजबूत बनाने और ऑस्टियोपोरोसिस जैसी बीमारियों से बचने में हेल्प करता है।

3. ब्रेन डेवलपमेंट:

बादाम खाने से बच्चों का दिमाग तेज (Brain Development) होता है. इससे आईक्यू लेवल बढ़ता है, और ब्रेन सेल्स को रिपेयर करने में मदद मिलती है। रोज बादाम खाने से आईक्यू लेवल भी बढ़ता है। बादाम में विटामिन ई और मोनोउनसैचुरेटेड फैट्स होते हैं, जो की तनाव को कम करने में मदद करते हैं।

4. ग्लाइसेमिक कंट्रोल :

इसमे ब्लड में ग्लूकोज के लेवल को सुधारने में मदद कर सकता है, जिसे ग्लाइसेमिक स्तर भी कहा जाता है। बादाम का सेवन ब्लड में ग्लूकोज के स्तर को संतुलित करने में मदद कर सकता है।

5. सूजन पर कंट्रोल: 

बादाम मोनोअनसैचुरेटेड फैटी एसिड से भरपूर होते हैं, जो सी-रिएक्टिव प्रोटीन जैसे इंफ्लेमेटरी मार्कर को कम करने में मदद कर सकते हैं। बादाम का सेवन करने से प्राकृतिक सूजन-रोधी प्रभाव और गठिया के लिए लाभकारी है।

किशमिश मे पाए जाने वाले पोशाक तत्व:

किशमिश में पाए जाने वाले पोषक तत्व जैसे, प्रोटीन, आयरन, फाइबर, पोटैशियम, कॉपर, विटामिन बी6, कैल्शियम, फाइटोकैमिकल्स, एंटीऑक्सीडेंट, एंटीबैक्टीरियल, हेल्दी फैट और विटामिन ई, जो कि सेहत के लिए बेहद लाभकारी माने जाते हैं। 

किशमिश खाने के फायदे

किशमिश खाने के फायदे:

1. खून की कमी होती है दूर:

इसका सेवन करने से एनीमिया (Anemia) यानि शरीर में खून की कमी दूर होती है। क्योंकि किशमिश में आयरन की प्रचुर मात्रा पाई जाती है, जो शरीर में हीमोग्लोबिन का स्तर बढ़ाता है। जिससे खून की कमी दूर होती है।

2. आंखों के लिए फायदेमंद:

किशमिश का सेवन आंखों के लिए काफी फायदेमंद माना जाता है। क्योंकि किशमिश में एंटीऑक्सीडेंट गुण मौजूद होता है। जो आंखों की सेल्स की रक्षा करते हैं और आंखों से जुड़ी कई बीमारियों को रोकने में मददगार साबित होते हैं।

3. स्किन के लिए फायदेमंद:

किशमिश का सेवन स्किन (Skin) के लिए काफी फायदेमंद माना जाता है। क्योंकि किशमिश एंटीऑक्सीडेंट के साथ-साथ विटामिन्स गुणों से भी भरपूर होता है। इसलिए इसका सेवन करने से स्किन पर ग्लो आता है, और ब्लड को साफ भी करता हैं, साथ ही स्किन संबंधी कई परेशानियां भी दूर होती है।

4. सांस लेने की समस्याओं में लाभकारी: 

किशमिश में मौजूद अनेक गुण फेफड़ों के स्वास्थ्य को सही बनाए रखने में मदद करते हैं, और सांस लेने की समस्याओं में लाभकारी साबित होते हैं।

5. हाई ब्लड प्रेशर कंट्रोल:

किशमिश में पोटैशियम और एंटी ऑक्सीडेंट गुण पाए जाते हैं, जो ब्लड सर्कुलेशन को सुधार कर हाई ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करने में मददगार होता है।

ध्यान देने योग्य जरूरी बात: 

इन तीनों चीजों का ज्यादा से ज्यादा लाभ लेना हैं, तो हमेशा सीमित मात्रा मे ही खाए, और इन्हे रात मे भिगोकर सुबह खाली पेट खाए, कच्चे खाने से इनका फायदा कम होगा, और नुकसान भी हो सकता हैं, इसलिए इनको हमेशा भिगोकर ही खाए, आपको डबल फायदा मिलेगा।

अगर आप डाईबेटिक हैं तो, आपको किशमिश स्किप करना चाहिए। और अगर आप बीमार हो तो अपने डॉक्टर से जरूर सलाह ले, ताकि वह आपको इनके बारे मे और अधिक जानकारी देंगे। 

Conclusion:

ये तीनों आहार सामग्री अद्भुत पोषकता और स्वाद के साथ समृद्ध होते हैं। इन्हें नियमित रूप से हमारे डाइट जरूर शामिल करना चाहिए। ये शरीर से जुड़ी कई समस्याओं को दूर करने में सहायक है। सेहत के लिए ये तीनों किसी वरदान से कम नहीं है। इनहे खाने से कमजोरी, सुस्ती जैसी समस्याओं से राहत मिल सकती है। इसमे पोषक तत्वों का भंडार है। 

FAQs:

क्या चना, बादाम और किशमिश ये तीनों को साथ मे खा सकते हैं?

हाँ, बिल्कुल खा सकते हैं, परंतु भिगोकर, कच्छे नहीं खाना चाहिए कभी भी।

1 दिन में कितनी किशमिश खा सकते हैं?

आपको रोजाना 5 से 10 किशमिश ही खानी चाहिए। इससे ज्यादा नहीं। 

1 दिन में कितनी बादाम खा सकते हैं?

1 दिन में 4 से 5 बादाम खाने की सलाह दी जाती है, अगर आप एक दिन में इससे अधिक बादाम का सेवन करते हैं, तो इससे आपके स्वास्थ्य को काफी नुकसान भी पहुंच सकता है।

चना, बादाम और किशमिश ये तीनों को खाली पेट खा सकते हैं?

हाँ, बिल्कुल खा सकते हैं, खाली पेट ये तीनों और ज्यादा अधिक असरकारी और फायदेमंद होती हैं। 

चना, बादाम और किशमिश ये तीनों को पानी में क्यों भिगोते हैं?

ये तीनों की बाहरी त्वचा और परत में मौजूद विटामिन और खनिज पानी में घुल जाते हैं। और पानी में भिगोने से इसकी एंटीऑक्सीडेंट सामग्री और भी बढ़ जाती है। और इनको पानी मे भिगोते हैं, तो यह जैसे कुछ एंजाइम छोड़ता है, जो हमारे मेटाबॉल्जिम को बढ़ाने और वजन को घटाने में मदद करते हैं।

Also Read These Post

टिफिन सर्विस बिजनस कैसे स्टार्ट करे| (Tiffin Service Business Kaise Start Karen)

Which Is the Best Engineering Course

How to Start Blogging in India

Play Store ki ID kaise banaye

Keibul Lamjao National Park

Surdas Ka Jivan Parichay

Online PAN Card Kaise Banaye| ऑनलाइन पेन कार्ड कैसे बनाए

Jaipur me Ghumne ki Jagah

How to Get a Proxy for WhatsApp

How to earn money on Facebook $500 every day

How to Delete a Pinterest Account

Download MP3 from YouTube

Spanish Island Known for Its Nightlife

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *