Bharat mein kul kitne Rajya hain | भारत मे कुल कितने राज्य है?

Table of Contents

Bharat mein kul kitne Rajya hain | भारत मे कुल कितने राज्य है? 2023

आप सभी को पता है की भारत राज्यों एवं केन्द्रो का संघ है। भारत एक विशाल देश  है जिसमे हमेशा से ही राज्यों या विरासत का समन्वय रहा है। आजादी के प्रूव भारत मे 562 रियासत थी लेकिन आजादी के बाद इन रियासतो को भारत (Bharat) मे मिला लिया गया या विलय कर लिया गया।

Bharat mein kul kitne Rajya hain

जब भारत आजाद हुआ तो इसमे राज्यों का गठन किया था. संन 1947 मे भारत मे कुल 12 राज्य हुआ करते थे 1950 को भारत मे 5 नए राज्य बनाय गए थे  इस प्रकार भारत मे राज्यों की सख्या 17 हो गयी। लेकिन जैसे जैसे देश का विकास है इसमें निरंतर राज्यों एवं केन्द्रो की सख्या बढ़ती गयी।भारतीय मे कुल राज्यों की सख्या कुल 28 है एवं केंद्र शासित प्रदेश की सख्या 8 है।

भारत (Bharat) मे राज्यों की सख्या :-

भारत विश्व का सांतवा सबसे बड़ा देश है। इसके साथ ही जनसँख्या के आधार पर भारत विश्व भर में अभी दूसरे स्थान पर है। भारत एक आबादी वाला देश है।भारत राज्यों एवं केन्द्रो का संघ है इसमें शुरुआत से ही विरासत का विलय था आजादी के समय संबिधान निर्माता ने देश को एकजुट करने के राज्यों का गठन किया एवं केंद्र शासित प्रदेश भी बनाय ताकि देश मे अच्छा माहौल बनाया जा सके। संन 1947 मे भारत मे कुल 12 राज्य हुआ करते थे 1950 को भारत मे 5 नए राज्य बनाय गए थे  इस प्रकार भारत मे राज्यों की सख्या 17 हो गयी। लेकिन जैसे जैसे देश का विकास है इसमें निरंतर राज्यों एवं केन्द्रो की सख्या बढ़ती गयी।

राज्यराजधानीराज्यपालमुख्यमंत्री
अरुणाचल प्रदेशईटानगरश्री कैवल्य त्रिविक्रम परनाइकपेमा खांडू
आंध्र प्रदेशहैदराबादश्री एस. अब्दुल नज़ीरवाईएस जगन मोहन रेड्डी
असमदिसपुरश्री गुलाबचंद कटारियाहिमंत बिस्वा शर्मा
बिहारपटनाश्री राजेंद्र अर्लेकरनीतीश कुमार
छत्तीसगढ़नया रायपुरश्री विश्व भूषण हरिचंदनभूपेश बघेल
गोवापणजीपीएस श्रीधरन पिल्लईप्रमोद सावंत
गुजरातगांधीनगरश्री आचार्य देवव्रतभूपेंद्र भाई रजनीकांत पटेल
हरियाणाचंडीगढ़श्री बंडारु दत्तात्रेयश्री मनोहर लाल कट्टर
हिमाचल प्रदेशशिमलाश्री शिव प्रताप शुक्लाश्री सुखविंदर सिंह सुक्खू
झारखंडरांचीश्री सीपी राधाकृष्णनश्री रघुवर दास
कनार्टकबेंगलुरुश्री सिद्धारमैयाबसवराज बोम्मई
केरलतिरुवंतपुरमश्री आरिफ मोहम्मद खानपीनारायी विजयन
मध्य प्रदेशभोपालश्री मंगूभाई छगनभाई पटेलशिवराज सिंह चौहान
महाराष्ट्रमुंबईश्री रमेश बैसएकनाथ शिंदे
मणिपुरइंफालसुश्री अनुसुइया उइकेवीरेन सिंह
मेघालयशिलांगश्री सत्यपाल मलिककौनरोड संगमा
मिज़ोरमआइजोलश्री हरि बाबू कामभाम्पतिजोरमथंगा
नागालैण्डकोहिमाश्री ला. गणेशननेफ्यू रियो
ओड़िशाभुवनेश्वरश्री गणेशी लालनवीन पटनायक
पंजाबचंडीगढ़श्री बनवारीलाल पुरोहितश्री भगवंत मान
राजस्थानजयपुरश्री कलराज मिश्रअशोक गहलोत
सिक्किमगंगतोकश्री लक्ष्मण आचार्यप्रेम सिंह तमांग
तमिलनाडुचेन्नईश्री आर एन रविके पलानी स्वामी
तेलंगानाहैदराबादतमिल साई सुंदर राजनके चंद्रशेखर राव
त्रिपुराअगरतलाश्री सत्यदेव नारायण आर्यमाणिक साहा
उत्तर प्रदेशलखनऊश्रीमती आनंदीबेन पटेलयोगी आदित्यनाथ
उतराखंडदेहरादूनश्री गुरमीत सिंहपुष्कर सिंह धामी
पश्चिम बंगालकोलकाताश्री डॉ सीवी आनंद बोसममता बनर्जी
Bharat mein kul kitne Rajya hain

धारा 370 हटने के बाद भारत मे राज्यों की सख्या 28 हो गयी क्योंकि जम्मू -कश्मीर को राज्य का दर्जा अलग कर दिया गया। उसे केंद्र शासित प्रदेश बना दिया गया। इस प्रकार भारतीय मे कुल राज्यों की सख्या कुल 28 है एवं केंद्र शासित प्रदेश की सख्या 8है। अगर  राज्यों की बात की जय तो भारत का सबसे बड़ा राज्य क्षेत्रफल की नज़र से तो राजस्थान है जिसके राजधानी जयपुर है वही सबसे छोटा राज्य गोवा है जिसकी राजधानी पणजी है। वही जनसंख्या मे सबसे बड़ा राज्य उत्तरप्रदेश है एवं सबसे काम जनसख्या वाला राज्य सिक्किम है। 

वही अगर सबसे पूर्वी राज्य की बात करे तो अरुणाचल प्रदेश है वही सबसे पश्चिम राज्य तो वह गुजरात है। सबसे दक्षिण राज्य तमिलनाडु एवं उत्तरी  जम्मू कश्मीर है। भारत मे हर राज्य का अपना अलग महत्व है क्योंकि हर राज्य की अपनी अलग पहचान है।

भारत मे राज्यों एवं केंद्र के नाम एवं उनकी राजधानी इस प्रकार है :-

भारत के राज्य एवं उनकी राजधानी एवं प्रमुख शहर :-

अरुणाचल प्रदेश

अरुणाचल प्रदेश का गठन 1987 मे हुई थी।यह भारत का सबसे पूर्वी राज्य है इसे सुबह की किरण या पहाड़ो की भूमि के नाम से भी जाना जाता है। अरुणाचल प्रदेश अपने खान पान एवं वैस भूषा के लिए जाना जाता है अरुणाचल प्रदेश की सीमा चाइना से लगी हुई है यहाँ पर बर्फ भी गिरता है।

अरुणाचल प्रदेश

अरुणाचल प्रदेश मे हाल ही सीमा को लेकर चाइना से विवाद हुआ था। अरुणाचल की राजधानी इटानगर है एवं इसके मुख्यमंत्री श्री पेमा खांडू है वही राज्यपाल कैवल्य त्रिविक्रम परनाइक है। 2011 की जनगणना के अनुसार इसकी जनसंख्या 11 लाख है। यहाँ पर प्रमुख रूप जनजातिया निवास करती है एवं अपनी अलग भाषा बोलती है।

अरुणाचल प्रदेश के प्रमुख शहर :-

ईटानगर :- अरुणाचल प्रदेश की राजधानी होने के साथ साथ इटानगर यहां का सबसे बड़ा शहर भी है। यह हिमालय पर्वत से लगा हुआ। यहाँ पर राज्य की बिधानसभा का मुख्यालय है।

तेजू :- अरुणाचल प्रदेश का दूसरा बड़ा शहर है। यह आदिवासी वस्ती की सबसे अच्छी जगह है एवं यह एक पर्यटन क्षेत्र भी है

पसीघाट :- पसीघाट एक पुराना एवं ऐतिहासिक स्थान वाला सबसे पुराना शहर है। जहाँ पर एक हिल स्टेशन भी है। यहां पर पर्यटन घूमने के लिए आते है। 

असम

असम पूर्वोत्तर भारत के पहाड़ों में बसा हुआ राज्य है जिसमे आज भी विभिन्न आदिवासी जनजातियाँ निवासरत है। 2001 की जनगणना के अनुसार असम की कुल जनसंख्या में 12.4 प्रतिशत थी असम का वर्णन महाभारत काल मे भी मिलता है। असम का 1972 मे बिभाजन कर दिया गया एवं उसकी राजधानी दिसपुर को बनाया गया। इसके मुख्यमंत्री हेमंत विस्वा है एवं वही राज्यपाल गुलाबचंद कटारिया है। राज्य मे अधिकतर जनजातिया ही निवास करती है।

असम

असम के प्रमुख शहर :-

दिसपुर :- दिसपुर असम का सबसे बड़ा शहर होने साथ वहा की राजधानी भी है। दिसपुर अपने रहन सहन के प्रसिद्ध है यह पर रहने वाली जनजाति  की अपनी अलग भाषा बोली है।

गुहावटी :- गुहावटी असम की अर्थव्यथा मे बड़ी भूमिका निभाता है क्योंकि यह एक नदी बंदरगाह है जिससे यह व्यापार मे बहुत उपयोगी है।यह उत्तर पूर्वी मे सबसे बढ़ता हुआ या तेजी से विकास करता है शहर है।

तेजपुर :- यह ब्रह्मपुत्र नदी के किनारे बसा एक शहर है यह उत्तरी तट पर स्थित है.इसकी आबादी 10000से ज्यादा है।

आंध्रप्रदेश

आंध्रप्रदेश भारत के दक्षिण पूर्वी तट पर स्थित राज्य है तो समुद्र से अपनी सीमा बनता है क्षेत्र के आधार पर यह देश का सातवा सबसे बड़ा राज्य एवं जनसंख्या के आधार पर पाँचवा सबसे बड़ा राज्य है।सबसे बड़ा शहर विशाखापत्तनम इसकी राजधानी है एवं इसका मुख्यमंत्री वाई एस जगमोहन रेड्डी है वही इसके राज्यपाल एस अब्दुल नज़ीर है।

आंध्रप्रदेश

आंध्रप्रदेश के प्रमुख शहर :-

विशाखापत्तनम:- विशाखापत्तनम एक बंदरगाह शहर है जिसे राज्य के सबसे बड़े शहर या बंदरगाह के रूप मे जाना जाता है। यह राज्य की राजधानी है। 

विजयबाड़ा :- विजयबड़ा राज्य की व्यावसायिक राजधानी के रूप मे जाना जाता है।यह कृष्णा नदी के तट पर बसा हुआ है।

काकीनाडा :- यह आंध्रप्रदेश का नाव निर्मित शहर है यह राज्य का चौथा सबसे आबादी बाला शहर है। यह आंध्रप्रदेश की आईटी भूमि है।

ओड़िशा

ओड़िशा एक तटीय राज्य है जो समुद्र से अपनी सीमा बनाता है ओड़िशा की राजधानी भुवनेश्वर है जो की वहा का बड़ा शहर है। इसका प्राचीन नाम कलिंग था ओडिशा अपनी सीमा झारखण्ड, पश्चिमबंगाल,छत्तीसगढ़ एवं बंगाल की खाड़ी से बनाता है। ओड़िशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक है वही इसके गवर्नर गणेशी लाल है।ओड़िशा मे विधानसभा की 147 सीटें है वही इसकी लोकसभा मे 22 सीटें है। ओड़िशा मे 30 जिले है।

ओड़िशा

ओड़िशा के प्रमुख शहर :

भुवनेश्वर :- भुवनेश्वर उड़ीसा की राजधानी है एवं यहाँ का व्यापारिक केंद्र भी है यहाँ पर प्रसिद्ध कलिंग राज का मंदिर है एवं अलोरा की गुफा भी है। यहाँ पर हमेश से ही लोग घूमने आते रहे है वर्तमान मे यहां पर नवीन कार्य किये जा रहे है। इसे मंदिर क  शहर भी कहा जाता है.

पुरी :- पूरी हिन्दू लोगो की आस्था का केंद्र रहा है। यहां पर लोग भगवान शिव को जल चढ़ाने आते है। कहा जाता है की भगवान शिव ने यहां पर विश्राम किया था पुरी बंगाल की खाड़ी मे स्थित है। जहा पर लोग आते है।पुरी की रियासत का इतिहास 3 ऐसा पूर्व है।पुरी जग्गन्नाथ, सूर्य मंदिर भुवनेश्वर के त्रिभुज को पूरा करते है।

कोणार्क :- कोणार्क का सूर्य मंदिर विश्व प्रसिद्ध है जहाँ पर सूर्य की पहली किरण पड़ती है कोणार्क एक छोटा एवं प्राचीन शहर है जो पुरी से 35km दूर स्थित है।छोटा शहर होने के कारण भी यह एक प्रसिद्ध शहर है।यहाँ का सूर्य मंदिर अपनी बनावट के लिए प्रसिद्ध है।यहां पर लोग घूमने के लिए आते है।

कटक :- कटक शब्द का अर्थ है सेना छावनी या राजधानी नगर भी है यह नगर सैन्य छावनी के रूप मे शुरू हुआ था।कटक को ओडिशा की सिल्वर सिटी के रूप मे जमा जाता है कटक ओडिशा के प्राचीन नगर  मे एक है. जहाँ पर प्राचीन मंदिर है एवं अपनी अलग संस्कृती है.

चादीपुर :- चादीपुर भी ओडिशा का प्रमुख शहर है यह एक खूबसूरत शहर है इसकी पूर्व मे बंगाल की खड़ी है एवं पश्चिम मे मयूरभंज का क्षेत्र है। यह पर उद्योग भी है जहाँ पर कपड़े का एवं चमड़े कनकम किया जाता है।

केरल

केरल भारत का दक्षिण राज्य है जो की समुद्र से लगा हुआ है  केरल देश का सबसे शिक्षित राज्य है यहां पर लिंग अनुपात भी सबसे ज्यादा है  यह अरब सागर से हुआ है वही इसकी सीमा तमिलनाडु एवं कर्नाटक से भी लगती है। केरल के मुख्यमंत्री पीनाराई विजयन है वही यहां के मुख्यमंत्री आरिफ मोहम्मद खान है केरल की विधानसभा मे 140 सीटें है वही लोकसभा मे 20 सीटें है।इसकी स्थापना 1 नवम्बर 1956 को की गयी थी यहां की राजभाषा मलयालम है। यहां के बने घर पुरे भारत मे प्रसिद्ध है। यहां की राजधानी त्रिवेंद्रम है। जो की खूबसूरत शहर है।

केरल

केरल के प्रमुख शहर

तिरुवनंतपुरम :- तिरुवनंतपुरम या त्रिवेंद्रम इस भारतीय राज्य की राजधानी है। यह देश के पश्चिम तट पर स्थित है। इस शहर में कम तटीय पहाड़ियों और व्यस्त वाणिज्यिक गलियों की विशेषता है। यह शहर एक प्रमुख शैक्षणिक केंद्र है। केरल विश्वविद्यालय यहां है। इस शहर के शैक्षणिक केंद्र में पंद्रह इंजीनियरिंग कॉलेज, तीन मेडिकल कॉलेज, तीन आयुर्वेद कॉलेज, दो होम्योपैथी कॉलेज, छह अन्य चिकित्सा संबंधी कॉलेज और दो लॉ कॉलेज शामिल हैं। त्रिवेंद्रम अंतरिक्ष विज्ञान, सूचना प्रौद्योगिकी, जैव-प्रौद्योगिकी, चिकित्सा आदि के क्षेत्र में अनुसंधान और विकास केंद्र है।

कोच्ची :- कोच्ची अरब सगर के तट पर स्थित एक बंदरगाह है यह प्राकितिक वातावरण से खूबसूरत शहर है इस शहर के प्रमुख स्थन कोच्ची फ़ोर्ट,सिनेगाग आदि यहां के दर्शानीय स्थल है।

कोट्टायम :- कोट्टायम मसालों और वाणिज्यिक फसलों, विशेष रूप से रबर का एक महत्वपूर्ण व्यापारिक केंद्र है। केरल का बागान निगम भी इस शहर में अपना मुख्यालय रखता है। शहर में और उसके आसपास कई छोटे और मध्यम आकार के उद्यम रबर लेटेक्स के प्रसंस्करण और रबर उत्पादों के निर्माण में लगे हुए हैं।

शहरों की समृद्ध संस्कृति कर्नाटक संगीत और कूडियाट्टोम और कथकली के नृत्यों में अच्छी तरह से परिलक्षित होती है। जबकि मलयालम आधिकारिक भाषा है; तमिल और विभिन्न आदिवासी भाषाएँ भी बोली जाती हैं।

कर्नाटक

कर्नाटक एक दक्षिण राज्य है पहले यह मेसूर राज्य कहलाता था। ईसका गठन किया था 1956 मे किया गया था। कर्नाटक एक प्रमुख राज्य है  कर्नाटक को भारत का सबसे शिक्षित राज्य का दर्जा प्राप्त है कर्नाटक को भारत का तकनिकी केंद्र कहा जाता है कर्नाटक की राजधानी बेंगलुरु है जो की तकनिकी का सबसे बड़ा शहर है कर्नाटक के मुख्य्मंत्री के सी सिद्दरामईया है वही पर इसके राज्यपाल थवरचंद गहलोत है। कर्नाटक मे 28 लोकसभा सीटें है। एवं 12 राज्य सभा सीटें है।

कर्नाटक

कर्नाटक के प्रमुख शहर :-

बेंगलुरु :-  बेंगलुरु भारत के चार प्रमुख महानगर मे से एक है यह कर्नाटक की राजधानी भी है एवं वहा का प्रमुख शहर भी है। बेंगलुरु को भारत की सिलिकॉन सिटी भी कहा जाता है। बेंगलुरु मे हमेशा  से ही तकनिकी शिक्षा का केंद्र रहा है यह पर आईटी सेक्टर भी है।

मंगलौर :- मंगलोर प्रारंभिक युग से एक प्रमुख बंदरगाह शहर के रूप में सेवा कर रहा है। यह भारत में अरब सागर और पश्चिमी घाट माउंटेन रेंज के बीच बेंगलुरु से लगभग 352 किलोमीटर पश्चिम में स्थित है।

हुबली :- हुबली कर्नाटक में सबसे तेजी से विकसित शहरी क्षेत्र है। इसमें सरकारी और गैर सरकारी कार्यालयों की संख्या सबसे अधिक है।

गुलबर्ग :- गुलबर्ग राज्य की राजधानी बेंगलुरु से 623 किमी उत्तर में है। यह हैदराबाद से 220 किमी दूर है। यह चूना पत्थर जमा और इस्लामी कला और वास्तुकला के स्मारकों के लिए प्रसिद्ध है।

सिंदगी :- सिन्दगी सभी शहरी सुविधाओं वाला एक शहर है। यह बीजापुर जिले में स्थित है और यह बीजापुर के पूर्व में लगभग 60 किमी दूर स्थित है, जो यहाँ से एक लोकप्रिय प्रवेश द्वार है।

गुजरात

गुजरात देश का सबसे पश्चिम राज्य है गुजरात  की गिनती भारत के सबसे समृद्ध और सुरक्षित राज्यों में की जाती है। यहाँ के लोग अत्यंत ही शांतिप्रिय और नेक दिल इंसान होते हैं। यह धरती है पूज्य बापू की जिन्होंने दुनियाँ को अहिंसा का संदेश दिया।उधोग हो या काल-कारखाने या बात हो प्राकृतिक सम्पदा की हर दृष्टि से यह राज्य आगे है।

गुजरात के अहमदाबाद में भारत में सूती वस्त्रों के उत्पादन में अग्रणी होने के कारण इस भारत का मेनचेस्टर कहा जाता है। गुजरात के मुख्य्मंत्री भूपेंद्र पटेल है और राज्यपाल आर्चाय देवव्रत  सिंह है।

गुजरात

गुजरात के प्रमुख शहर

अहमदाबाद :- अहमदाबाद कपास के उत्पादन के लिए जाना जाता है। यह औद्योगिक शहर गुजरात की पूर्व राजधानी है और यह सर्वश्रेष्ठ परिवहन प्रणाली से जुड़ा हुआ है।

सूरत :- भारत का यह तीसरा सबसे स्वच्छ शहर प्राचीन काल से अस्तित्व में आया और इसे सूती कपड़ा और हीरा उद्योगों का केंद्र माना जाता है।

वडोदरा :- वड़ोदरा जिसे बड़ौदा की रियासत के रूप में जाना जाता था, विश्वामित्री नदी के तट पर स्थित है।

राजकोट :- राजकोट अल्फ्रेड हाई स्कूल, सौराष्ट्र विश्वविद्यालय, जवाहर नवोदय विद्यालय और मारवाड़ी विश्वविद्यालय जैसे शैक्षणिक संस्थानों की उपस्थिति के लिए दुनिया भर में लोकप्रिय है।

भावनगर :- भावनगर जैन मंदिरों, वन्यजीव अभयारण्यों और राष्ट्रीय उद्यानों की यात्राओं की पेशकश कर इसकी सुंदरता को दर्शाता है। लोकप्रिय पर्यटन स्थलों में से कुछ तख्तेश्वर मंदिर, नीलांबाग पैलेस, भाव विलास पैलेस, मंगलसिंहजी महल पैलेस, गौरीशंकर 

गोवा

गोवा देश का सबसे छोटा राज्य एवं जनसंख्या के आधार पर चौथा छोटा राज्य है गोवा अपने समुद्री किनारो के लिए पुरे विश्व मे प्रसिद्ध है। गोवा पहले पुर्तगाल का उपनिवेश रहा था। गोवा के बीच बहुत ही ज्यादा प्रसिद्ध है। गोवा पिकनिक के बहुत ही सुंदर जगह है। गोवा समुद्री तट पर स्थित है वही इसकी सीमा महाराष्ट्र से, कर्नाटक से लगती है गोवा  गोवा का गठन 30 माई 1987 को किया गया था गोवा राज्य की राजधानी पणजी है यहां पर कुल दो जिले है। यहाँ के मुख्यमंत्री प्रमोद सामवंत है वही इसके राज्यपाल पी एस श्रीधरण है।

गोवा

गोवा के प्रमुख शहर :-

पणजी :- गोवा का बड़ा शहर एवं वहा की राजधानी है। पणजी गोवा का एक उद्योग का केंद्र है पणजी तेज़ी से विकास करता हुआ शहर है। पणजी मे यात्री भारी मे समुद्री बीच का मजा लेने के लिए आते है। यहां के रेस्टोरेंट एवं क्लब  बहुत सुन्दर है।

बास्को डी गामा :- बास्को डी गामा गोवा का सबसे बड़ा शहर है एवं वहा का प्रमुख नगर भी गोवा की आर्थिक राजधानी के रूप मे जाना जाता है। इसका नाम पुर्तगाल के नाविक बास्को डी गामा के नाम पर पड़ा है। यहां पर क्लब एवं रेस्टोरेंट की सख्या बहुत ज्यादा है।

 छत्तीसगढ़

छत्तीसगढ़ का गठन नवम्बर 2000 मे किया गया था. पहले यह मध्यप्रदेश के अंतर्गत आता था किन्तु इसे अलग कर के एक नया राज्य बना दिया था  कहा जाता है की यहां पर छत्तीस गढ़ हुआ करते थे इसलिए इसे छत्तीसगढ़ कहा जाने लगा। भारत का ऐसा राज्य जिसे माँ का दर्जा दिया गया है। यहां पर प्राचीन मंदिर भी है।

 छत्तीसगढ़

छत्तीसगढ़ का अपना लग महत्व है  छत्तीसगढ़ नक्सल वादियों से पीड़ित राज्य रहा है। यहाँ पर खनिज के भारी मात्र मे पाया जाने के सम्भावना है। छोटा नागपुर का पाठार भी महत्व पूर्ण है। यहां पर इसके लिए अलग रूप मे काम चलता रहा है। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश भगेल है वही इसके राज्यपाल विस्वा भूषण हरिचंदन है। छत्तीसगढ़ के प्रमुख शहर रायपुर, बीजापुर, बस्तर,विलासपुर, आदि यहां के प्रमुख शहर है।

छत्तीसगढ़ के प्रमुख शहर :-

रायपुर :- रायपुर यहाँ का एक बड़ा नगर एवं प्रदेश की राजधानी भी है. राजधानी होने कारण यह बहुत ही खूबसूरत शहर है। रायपुर जंगली सफारी के प्रसिद्ध है इसके आलावा यहां पर स्थित नगर घड़ी भी लोगो को अपने और आकर्षक करती है। यहाँ पर कारखाने की मात्रा बहुत ज्यादा है। यह एक उद्योगिक नगरी भी है। इसे छत्तीसगढ़ की लोक संस्कृति के रूप मे जाना जाता है।

बिलासपुर :- बिलासपुर भी काफ़ी बड़ा एवं प्रसिद्ध नगर है यहां पर  काफ़ी मंदिर भी स्थित है। बिलासपुर को  छत्तीसगढ़ की उद्योगिक राजधानी के रूप मे जाना जाता है। क्योंकि यहां पर भारी मात्रा मे कारखने स्थापित है।

बिलासपुर को उद्योग नगरी के रूप मे जाना जाता है। बिलासपुर घूमने के लिए भी एक अच्छा स्थान है यहां पर शिव नदी के किनारे मड़कू दीप स्थित है। जो घूमने के लिए बहुत ही अच्छी जगह है। बताया जाता है की यहां की खूबसूरती बहुत ही अच्छी है यहा की हरियाली आपको दीवाना बना देगी। इस दीप को केदार नाथ के रूप मे देखा जाता है। 

बीजापुर :- छत्तीसगढ़ का बीजापुर जिला घूमने के साथ साथ एतिहासिक चीजों के लिए भी जाना जाता है. यहां पर  टाइगर रिजर्व इंद्रवती नेशनल पार्क स्थित है जो घूमने के लिए काफ़ी अच्छा है। प्रदेश का एकमात्र टाइगर रिजर्व होने के यहां की खूबसूरती और बाद जाती है। यहां पर जाने पर आपको बाघ, तेंदुआ, नीलगाय आदि दुर्लभ जानवर देखनो को मिल जायगे। बीजापुर भी एक महत्व पूर्ण नगर है जिसमे कई प्रकार के उद्योग स्थापित है।

बस्तर :- बस्तर का नाम सुनते ही आपमें मंदिर मे सबसे पहले वहा के जंगलों का नाम आता होगा। बस्तर एक नक्सल वादी एरिया भी है. यहां पर कई प्रकार के पेड़ पौधे भी पाया जाते है. बस्तर मे बहुत जगह घूमने योग्य है  इस नगर मे जंगल के आलावा झील,झरना, स्मारक घूमने के लिए प्रसिद्ध है। यहां पर कई प्रकार के जानवर भी पाया जाते है।

झारखण्ड

झारखण्ड भारत का एक राज्य है।झारखण्ड की सीमा बंगाल, उत्तरप्रदेश छत्तीसगढ़, बिहार, उड़ीसा के साथ बनती है, झारखण्ड का गठन 15 नवम्बर 2000 को हुआ था यह विहार एवं बंगाल से अलग होकर बनाय गया था। इसके मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन है वही इसके राज्यपाल सी पी राधाकृष्णन है झारखण्ड मे जिलों की सख्या 22 है वही यहाँ पर 82 विधानसभा सीटें है। झारखण्ड मे आदिवासी लोगो का हमेशा से ही रहन सहन रहा है यहाँ पर पहले मुग़लो का अधिकार रहा था।

झारखण्ड

झारखण्ड के प्रमुख शहर :-

रांची :- रांची झारखण्ड की राजधानी है एवं यह उद्योगिक  गतिविधियों का केंद्र रहा है पूर्व मे रांची लोहरदगा के नाम से जाना जाता है  यहां शहर अपने तीर्थ स्थान के लिए जाना जाता है रांची टैगोर हिल, रांची झील, रांची हिल आदि से सम्पन है.यह शहर स्वाथ्य वातावरण के लिए प्रसिद्ध है. यहां पर यात्री यात्रा के भारी मात्रा मे आते है। 1899 मे एक छोटे से शहर का नाम रांची पड़ा था।

जमशेदपुर :- जमशेदपुर को टाटानगर के रूप मे भी जाना जाता है। टाटा आयरन एंड स्टील के संस्थापक श्री जमशेद जी टाटा के नाम पर इस शहर का नाम जमशेदपुर रखा गया है. जमशेदपुर मे विश्व का बड़ा लोहा इस्पात का कारखाना है जो की भारत का सबसे बड़ा कारखाना है। यह मुख्य रूप से उद्योगिक एवं योजना के नगर के रूप मे विकसित किया जा रहा है।

देवघर :- देवघर को भगवान शिव की नगरी के रूप मे जाना जाता है। यह एक प्रसिद्ध तीर्थ स्थल होने के साथ साथ एक पर्यटन स्थल भी है। यह शहर कई मंदिरो से भरा पड़ा है. लेकिन इस नगर का प्रमुख मंदिर बेधनाथ मंदिर  है।श्रावण माह  मे  यहां पर हज़ारो लोग भगवान शिव को जल चढ़ाने आते है. इस मंदिर के अलवा भी यहां पर और कई मंदिर हो जाहबपर आप घूमने जा सकते है।

हज़ारीबाग :- हज़ारीबाग भी झारखण्ड का बड़ा नगर है  यहा पर भी कई प्रकार के मंदिर है। ईके साथ यहां पर उद्योग भी स्थापित है.यह शहर एक लोकप्रिय पर्यटन स्थल है। इस नगर मे कई बड़े पार्क एवं बगीचे है।

नागालैंड

नागालैंड भारत का एक उत्तर पूर्वी राज्य है कोहिमा इसकी राजधानी है एवं दिमापुर यहां का सबसे बढ़ा नगर है.नागालैंड मे नागा जाती के लोग निवास करते है इसलिए इस प्रदेश को नागालैंड कहते है।नागालैंड की सीमा असम, अरुणाचलप्रदेश, वर्मा, मणिपुर, से मिलती है नागालैंड मे 12 जिले है।

नागालैंड

वही इसकी स्थापना 1 दिसंबर 1963 को हुई थी यहां के मुख्यमंत्री निफियों रियो है वही इसके राज्यपाल जगदीश मुखी है। नागालैंड विधानसभा मे 60 सीटें है वही लोकसभा एवं राज्यसभा मे 1और 1 सीटें है। नागालैंड अपनी अलग संस्कृति के रूप मे जाना जाता है वही यहां पर इंग्लिश भाषा बोली. जाता है।

नागालैंड के प्रमुख शहर :-

कोहिमा :- यह प्रदेश की राजधानी के रूप मे एवं एक बड़े उद्योग नगर के रूप मे स्थित है। यह वर्मा के साथ अपनी सीमा बनाता है। यहाँ पर बने मंदिर आपको बहुत ही पसंद  आने बाले है यहां पर बौद्ध धर्म के अनुयायी है।

मोकोकचुंग :- मोकोकचुंग नागालैंड के जिले के एक एको नागा  जनजाति का घर है इसमें 1615km का क्षेत्र शामिल है। जिले का बिभाजन एक पर्वत श्रखला के आधार पर किया जाता है।

फेक :- फेक भारतीय राज्य नागालैंड का एक शहर एवं नगर पालिका के रूप जाना जाता है। यह विशाल पहाड़ी के बीच मे स्थित खूबसूरत शहर है।

पंजाब

यह देश का उत्तर पश्चिम राज्य है जो विशाल पंजाब का एक हिस्सा है इसका एक भाग पाकिस्तान मे है वही कुछ भाग हरियाणा एवं हिमाचल मे भी है.इसकी स्थपना 1 नवम्बर 1966 को हुआ थी। इसके मुख्यमंत्री भागवत मान जी है वही इसके राज्यपाल बनवारीलाल पुरोहित है। पंजाब मे 117 विधानसभा सीटें है वही लोकसभा मे 13 सीट है।

पंजाब

इसकी राजधानी चंडीगढ़ है वही इसका सबसे बड़ा शहर लुधियाना है। पंजाब हमेशा से ही एक सम्पन राज्य रहा है पंजाब देश के कृषि प्रधान राज्य है एवं यहाँ पर गेहूं की भी पैदावार सबसे ज्यादा है। पंजाब को पांच नदियों का राज्य कहा जाता है। पंजाब अपनी सीमा पाकिस्तान से भी बनात है।

पंजाब के प्रमुख शहर :-

अमृतसर :- सिक्खों की पवन भूमि के रूप मे इस शहर को. जाना जाता है वही यहाँ पर स्वर्ण मंदिर भी है जो की सिख का तीर्थ स्थल है।इस शहर का ऐतिहासिक मूल्य भी है क्योंकि यहां पर जालियाबाला बाग हत्या कांड भी हुआ था।

चंडीगढ़ :- चंडीगढ़ पंजाब एवं हरियाणा की राजधानी है चंडीगढ़ भारत का पहला नियोजित नगर है यह शहर देश का सबसे साफ शहर मना जाता है इस शहर का ज्यादातर भाग घने वनो से टका हुआ है। चंडीगढ़ मे प्रति व्यक्ति वाहनों की सख्या सबसे ज्यादा है

लुधियाना :- लुधियाना पंजाब का सबसे बड़ा शहर है एवं यह अपने उद्योग के पुरे भारत मे प्रसिद्ध है. वही इसका अपना अलग महत्व है लुधियाना मे कारखाने एवं उद्योग धंधे के लिए भी जाना जाता है।

फिरोजपुर :- फ़िरोज़पुर सतलूज नदी के किनारे बसा एक खूबसूरत शहर है इसकी स्थापना फिरोजशाह तुगलक ने की थी इसलिए इसे फ़िरोज़पुर के नाम से जाना जाता है फ़िरोज़पुर को शहीदों की भूमि के नाम से जाना जाता है.फ़िरोज़पुर ऐतिहासिक महत्व भी रखता है क्योंकि यहां पर कई युद्ध भी लड़े गए।

पश्चिम बंगाल

पश्चिम बंगाल देश का समुद्री तटिया राज्य है जो की असम, झारखण्ड विहार, बंगलादेश से, एवं बंगाल की खड़ी से सीमा बनाता है। पश्चिम बंगाल जुट एवं लोहा उद्योग के लिए प्रसिद्ध है पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता जो की एक महानगर है। जो की हुगली नदी के तट पर स्थित है।

पश्चिम बंगाल

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी जी है वही यहां के राज्यपाल ल गणेशन है। पश्चिम बंगाल का उच्च न्यायलय कोलकाता मे स्थित ही। बंगाल समरिक दृष्टि से बहुत ज्यादा उपयोगी है पश्चिम बंगाल के प्रमुख शहर  कोलकाता, दर्ज़ालिंग एवं मिरिक सुन्दरबन है। इसकी स्थापना 1 नवम्बर 1956 को हुई थी।

पश्चिम बंगाल के प्रमुख शहर :-

कोलकाता :- कोलकाता देश के महानगरो मे से एक है जो की अपने व्यापारिक एवं राजनितिक महत्व के लिए जाना जाता है कोलकाता प्राचीन काल से अपनी धरोहर एवं कला के लिए जाना जाता है वही इसका अपना समरिक महत्व भी कोलकाता हुगली नदी के तट पर स्थित है। कोलकत्ता शहर का अपना इतिहास है. कोलकाता मे आप हावड़ा बिर्ज़ एवं विक्टोरिया मेमोरियल आदि जगह पर आप घूमने जा जा सकते है।

सिलीगुड़ी :- सिलीगुड़ी पश्चिम बंगाल का एक खूबसूरत शहर जहाँ आप घूमने या पिकनिक के लिए आ सकते है इस शहर को गेटवे टू दा नार्थ – ईस्ट के लिए जाना जाता है आप सिलीगुड़ी मे समय वियर नंदा अभ्यारण मे भी बिता सकते है।आप दूधी या सालगुड़ी मठ की भी यात्रा कर सकते है।

दर्जीलिंग :- दर्जीलिंग पश्चिम बंगाल का एक महत्व पूर्ण शहर है जो की पूर्व मे स्थित है वही इसको बंगाल का किला कहते है जो की अपने दर्रा के लिए पुरे भारत मे प्रसिद्ध है वही इसका भी अपना इतिहस है।

सुन्दरवन :- सुन्दरवन अपने बनो के लिए पुरे भारत मे प्रसिद्ध है वही यहां पर दलदली वनो भी पाया जय जाते है सुन्दरवन के मेंग्रोव वन  बंगाल रॉयल टाइगर सुन्दरवन नेशनल पार्क दुनिया का सबसे बड़ा टाइगर रिजर्व बनाया गया है।

मणिपुर

मणिपुर भारत के पूर्वउत्तर मे स्थित एक राज्य है. जिसकी राजधानी इम्फाल है मणिपुर के पूर्व मे वर्मा एवं उत्तर मे नागालैंड,दक्षिण मे मिजोरम, पूर्व मे असम है।इसका क्षेत्रफाल 22 347वर्ग km है। इसकी स्थापना 21 जनवरी 1972 मे हुई थी। मणिपुर मे 16 जिले है. मणिपुर के मुख्यमंत्री एन बिरेन सिंह वही इसके राज्यपाल अनुसूईया ऊनके है।वही मणिपुर मे अपना एक विधानसभा है यहाँ पर विधानसभा सीटें की सख्या 60. है। मणिपुर मुख्य रूप से एक पर्वतीय राज्य है जो की पहाड़ो मे बसा हुआ है।

मणिपुर

मणिपुर के प्रमुख शहर :

इमफ़ाल :- इमफ़ाल मणिपुर का सबसे बड़ा शहर है वहा की राजधानी भी जो एक व्यापारिक केंद्र है इस शहर का अपना एक इतिहास जिसके लिए वह जाना जाता है यहां के प्रमुख पर्यटन स्थल यह के बौद्ध धर्म के वही यहाँ पर बने मंदिर भी यहां के प्रसिद्ध है।

विष्णुपुर :- विष्णुपुर मणिपुर का एक खूबसूरत शहर है जो की मणिपुर का एक जिला है यहां पर प्रसिद्ध भगवान विष्णु का प्रसिद्ध मंदिर है जहाँ पर यात्री घने के लिए आते है।

मोइरांग :- मोइरांग इम्फाल से 45km की दुरी पर दक्षिण पर स्थित है यहां पर द्वातीय विश्व के बाद यहां पर तिरंगा लहराया गया था।

नंबॉल :- नंबाल यहां का एक पर्वतीय स्थान है जो की विष्णुपुर जिले मे स्थित है यहां का बाजार पुरे मणिपुर मे प्रसिद्ध है।

मिजोरम

मिजोरम देश का पूर्वी राज्य है मिजोरम की साक्षरता सबसे ज्यादा है वही इसकी राजधानी आइजोल जो वहा का एक बड़ा खूबसूरत शहर है मिजोरम की स्थापना 20 फरबरी 1987 को हुई थी मिजोरम मे 11 जिले है वही यहां के मुख्यमंत्री जोरामथांगा है वही इसके राज्यपाल कामभमपति हरिबाबू है. मिजोरम की विधानसभा मे 40 सीटें है यहां का उच्च न्यायलय गुहावटी मे स्थित है।

मिजोरम

मिजोरम के प्रमुख शहर :-

आइजोल :- आइजोल भारत मे मिजोरम राज्य की राजधानी है यह सभी प्रशानिक कार्यों,विधानसभा एवं सचिवालय का मुख्यालय है आइजोल मे मिजो लोगो की सख्या सबसे ज्यादा है।

लुगलेई :- लुगलेई एक शहर है जो मिजोरम के दक्षिण मध्य भाग मे स्थित है लुगलेई का नाम लुगलेह से आया था जिसका अर्थ पल होता है यह राजधानी के बाद दूसरा सबसे बड़ा शहर है वही यह आइजोल से 165km दूर है।

चमफाई :-चमफाई मिजोरम का एक सीमा वरती शहर है.यह राज्य के 8 जिलों का मुख्यालय है यह भारत और वर्मा के सीमा पर स्थित है इस वजह से यह भारत का व्यापारिक शहर है।

उत्तरप्रदेश

उत्तरप्रदेश देश का जनसंख्या वाला सबसे बड़ा राज्य है। उत्तरप्रदेश मे 70 से अधिक लोकसभा सीटें है। उत्तरप्रदेश संस्कृत एवं राजनीती मे अपना अलग महत्व रखता है। उत्तरप्रदेश की राजधानी लखनऊ है जिसे नाबाबो का शहर भी कहा जाता है। यहाँ के मुख्यमंत्री योगी आदित्यराज है वही यहाँ के राज्यपाल आनदी बेन पटेल है।

उत्तरप्रदेश

उत्तरप्रदेश मे बहुत सारे तीर्थ स्थान है जिसमे राम जन्मभूमि अयोध्या, काशी, वाराणसी, आदि प्रमुख है। उत्तरप्रदेश की सीमा नेपाल से भी लगती हा। उत्तरप्रदेश हमेशा से ही राजनीती का केंद्र रहा है। उत्तरप्रदेश देश मे कपड़ा उद्योग के लिए एवं गेहूं के लिए सबसे बड़ा केंद्र है।

उत्तरप्रदेश के प्रमुख शहर :-

लखनऊ :- लखनऊ उत्तरप्रदेश का एक बड़ा शहर है एवं प्रदेश की राजधानी है। लखनऊ को नाबाबो का शहर कहा जाता है. लखनऊ कपड़ा उद्योग, चमड़ा उद्योग के लिए प्रसिद्ध है.।

इलाहाबाद :- इलाहाबाद को संगम नगरी, अमरुद नगरी, कुंभ नगरी आदि के नाम से भी जाना जाता है। इलाहाबाद एक बड़ा शहर है एवं यह तीन नदियों के तट पर बसा शहर है। इलाहाबाद एक तीर्थ स्थान है. जहाँ पर लोग भारी सख्या मे आते है। यहाँ पर प 12 बर्षो मे कुम्भ मेले का आयोजन किया जाता है।

ग्रेटर नोएडा :- ग्रेटर नोएडा उत्तरप्रदेश का एक उद्योगिक क्षेत्र है. जिसे उत्तरप्रदेश का विंडो शो भी कहा जाता है यह दिल्ली से लगा हुआ क्षेत्र है यह मोटर बाइक का काम किया जाता है।

कानपुर :- कानपुर को पूर्वत्तर का मेंनचेस्टर कहा जाता है. एवं यह चर्म उद्योग, एवं कपड़ा के लिए प्रसिद्ध है।

गाजियाबाद :- इसे छोटी दिल्ली या उद्योग नगर के नाम भी जाना है. गाजियाबाद मे उत्तरप्रदेश का बहुत बड़ा हिस्सा  यहाँ पर काम करता है।

गोरखपुर :- सन 1857 की क्रांति केंद्र रहा था गोरखपुर को गोरखा नगर या नाथ नगर भी कहा जाता है यह प्रेस के लिए प्रसिद्ध है.

उत्तराखंड

उत्तराखंड का गठन 2001मे उत्तरप्रदेश से अलग होकर की गयी थी. उत्तराखंड को तीर्थो की जन्म भूमि कहा जाता है या चार धामो की भूमि क्योंकि यहां पर चार धाम बद्रीनाथ, केदारनाथ, गंगोत्री, यमुनोत्री जैसे चार स्थान है। उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी है एवं राज्यपाल गुरमीत सिंह चौधरी है। उत्तराखंड की सीमा चाइना से लगती है. एवं हिमाचल प्रदेश एवं उत्तरप्रदेश से भी सीमा बनाता है। उत्तराखंड की राजधानी देहरादून है।

उत्तराखंड

उत्तराखंड के प्रमुख शहर :-

देहरादून :- देहरादून उत्तराखंड की राजधानी एवं एक बड़ा शहर है. देहरादून राज्य का प्रमुख उद्योगिक केंद है. देहरादून एक तीर्थ जगह भी है।

मंसूरी :- मंसूरी एक हिल स्टेशन है जहा पर लोग अकसर पिकनिक के आते है.मंसूरी का नाम मंसूर से पड़ा जो झाड़ी की और संकेत करता है। गढ़वाल के हिमालय के बीच मे स्थित है जहाँ पर सुखद मौसम रहता है।यह उत्तरप्पूर्वी मे है यह मंसूरी जिले मे स्थित है।

हरिद्वार :- हरिद्वार एक हिन्दू का प्रमुख तीर्थ क्षेत्र है जहाँ पर कुम्भ मेले का आयोजन किया जाता है हरिद्वार को सबसे पवित्र शहर मे से एक मना जाता है, यहां पर कई प्रकार की गुफा, मंदिर एवं घाट है।

बद्रीनाथ :- बद्रीनाथ चार धामों मे से एक धाम है जहाँ पर यात्री बहुत सख्या मे दर्शन के लिए पहुंचते है। यह समुद्र तल से 3100 मीटर की ऊचाई पर है। यह अलकनंदा नदी के किनारे पर बसा है. बद्रीनाथ मे भगवान विष्णु का मंदिर है जहाँ पर यात्री प्रतिवर्ष आते आते है।

केदारनाथ :- केदारनाथ धाम सबसे लोकप्रिय धामों मे से एक है  जहाँ पर भगवान शिव का मंदिर है ऐसे धरती का स्वर्ग कहा जाता है। कहा जाता है की यहां स्वर्ग से हवा आती है।

मध्यप्रदेश

मध्यप्रदेश देश के बीच मे स्थित है इसलिए इसे हदयप्रदेश भी कहा जाता है। मध्यप्रदेश की स्थापना 1नवम्बर 1956 को हुआ था मध्यप्रदेश के पहले मुख्यमंत्री रविशंकर शुक्ला थे। मध्यप्रदेश मे वर्तमान मे 53 जिले है। मध्यप्रदेश का  अपना अलग महत्व होता है. मध्यप्रदेश की क्षेत्रफल की दृस्टि 2 सबसे बड़ा राज्य है। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल है।

मध्यप्रदेश

मध्यप्रदेश का सबसे बड़ा शहर भोपाल है वही इसके आलावा इंदौर ग्वालियर, जबलपुर भी प्रमुख शर्हर  है। मध्यप्रदेश मे 245 विधानसभा है। वही लोकसभा मे 27 सीटें है। वर्तमान मे मध्यप्रदेश मे भाजपा की सरकार है। मध्यप्रदेश के पन्ना जिले मे हीरा पाया जाता है। मध्यप्रदेश  देश का सर्वाधिक बनो बाला राज्य है। मध्यप्रदेश मे घूमने के लिए खजुराहो के मंदिर, साँची, मैहर, भोपाल झील आदि प्रमुख पर्यटन स्थल है।

मध्यप्रदेश के प्रमुख शहर :-

भोपाल :- प्रदेश का एक बड़ा शहर एवं वहा को राजधानी भी भोपाल है भोपाल झीलो के लिए प्रसिद्ध है। इसलिए इसे झीलो की नगरी भी कहा जाता है। भोपाल एक उद्योगिक केंद्र भी है। भोपाल मे प्रमुख रूप से घूमने के लिए वन विहार न्यू मार्केट आदि अच्छे स्थान है।

इंदौर :- देश का सबसे स्वच्छ जिला इंदौर ही है. इंदौर मध्यप्रदेश की मिनी मुंबई के रूप मे जाना जाता है  इसे राज्य की आर्थिक राजधानी भी कहा जा सकता है। इंदौर के रजवाड़े विश्व प्रसिद्ध है यह पर प्राचीन मंदिर एवं किले है जिसे देखने के लोग आते है इंदौर राज्य का सबसे बड़ा शहर है एवं आबादी के मामले में भी सबसे ऊपर है। यह एक नगर निगम के रूप मे कार्य करता है। यहां पर प्रदेश के उच्च न्यायलय की एक शाखा या खंडपीट है।

ग्वालियर :- ग्वालियर भी प्रदेश का एक आधुनिक नगर है ग्वालियर अपने इतिहास के लिए विश्व प्रसिद्ध रहा है यहां पर सिंधिया राजघाराने का हमेशा से अधिकार रहा है ग्वालियर मे बहुत सी जगह है घूमने के लिए जिसमे किला मंदिर आदि प्रमुख है। 

तमिलनाडु

तमिलनाडु देश का एक ऐसा राज्य जो अपने विरासत एवं संस्कृति के लिए जाना जाता है यहाँ का खान पण रहन सहन ही इसे एक विशेष राज्य बनाते है।तमिलनाडु देश का एक तटीय राज्य है जो समुद्र से लगा है यही पर सबसे दक्षिणतम बिंदु कन्याकुमारी कुमारी स्थित है। तमिलनाडु देश का सबसे दक्षिणी राज्य है. इसकी सीमा केरल, कर्नाटक से लगती है।

तमिलनाडु

तमिलनाडु मे बोली जानी भाषा तमिल है क्योंकि यहां पर तमिल लोगो की सख्या बहुत ज्यादा है.तमिलनाडु मे प्रसिद्ध मिनाक्षी देवी का मंदिर है जहाँ पर हर वर्ष मेला लगता है। यहाँ के मुख्यमंत्री ऍम के स्टालीन है। यहाँ की राजधानी चेन्नई है।

तमिलनाडु के प्रमुख शहर :-

चेन्नई :- चेन्नई देश के महानगर मे से एक है। चेन्नई तमिलनाडु की राजधानी एवं एक व्यापारिक नगर है। चेन्नई का पुराना नाम मद्रास था.यह शहर कोरोमण्डल तट पर स्थित है जो संस्कृति एवं शिक्षा का केंद्र रहा है।मरीना बीच भी यहॉ पर स्थित है जो को विश्व का सबसे बड़ा दूसरा समुद्री तट है। चेन्नई हमेशा से ही एक संपन्न शहर रहा है। यह पर यात्री यात्रा के लिए आते है।

रामेश्वरम :- हिन्दूओ का प्रमुख तीर्थ स्थान है जो की तमिलनाडु के रामनाथपुरम जिले मे स्थित एक खूबसूरत शहर है.भारत के सबसे खूबसूरत शहर मे से एक और खूबसूरत दीप पर स्थित है कहा जाता है की भगवान राम ने यहां पर भगवान शिव की पूजा की थी एवं उसकी स्थापना की. रामसेतु यही से श्रीलंका तक बनाया गया था.यह श्रीलंका के मन्नर दीप से 40km की दुरी पर स्थित है।

महबलीपुरम :- महबलीपुरम तमिलनाडु के दक्षिण पूर्व मे चेंगलपट्टू  जिले मे स्थित एक शहर है महबलीपुरम 7बी एवं 8 बी शताब्दी के स्मारको के युनेस्को मे विश्व धरोहर के रूप मे शामिल है. यह तमिलनाडु के पर्यटन स्थलों. मे से एक है।

कांचीपुरम :- कांचीपुरम तमिलनाडु राज्य के तोलईमण्डलम क्षेत्र मे स्थित है यह चेन्नई से 72 km की दुरी पर स्थित है यह अपनी साड़ियों के लिए विश्व प्रसिद्ध है जहाँ पर सभी लोग पिकनिक के लिए आते है.अगर आप दक्षिण के मंदिर एवं चमत्कार का आनंद लेना चाहते है तो आपको यह पे जरूर आना चाहिए।

तेलंगाना

तेलंगाना देश का 28 बा राज्य है जो की आंध्रप्रदेश से अलग होकर बनाया गया था. तेलंगाना की सीमा महाराष्ट्र, आंध्रप्रदेश, तमिलनाडु से सीमा बनता है। तेलंगाना की संयुक्त राजधानी हैदराबाद  है. तेलंगाना का अर्थ होता है तेलगुभाषियो की भूमि इसलिए इसे तेलंगाना कहा जाता है.इसकी स्थापना 2 जून 2014 को की गयी थी यहां के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव है वही इसके राज्यपाल तमिलसेे सौदरराजन है।यहाँ पर लोकसभा की 17 सीटें है। तेलंगाना एक खूबसूरत राज्य है। जहाँ पर आप घूमने भी जा सकते है।

तेलंगाना

तेलंगाना के प्रमुख शहर :-

हैदराबाद :- तेलंगाना का सबसे बड़ा शहर एवं यहां की राजधानी भी है यहा पर स्थित चरमीणार इसकी खूबसूरती मे चार चाँद लगाता है यहा की विरयानी पुरे भारत मे प्रसिद्ध है हैदराबाद मे पर्यटन स्थलों की कोई कमी है हैदराबाद शुरुआत से ही संस्कृति एवं कला का केंद्र रहा है यहा पर स्थित मीनर एवं इमरते यहां के प्रमुख स्थान है।

हैदराबाद मे घूमने की जगह

1 :- गोलकुंडा का किला

2 :- हुसैन सागर झील

3 :- चारमीनर

वारंगल :- वारंगल भी तेलंगाना का एक नगर जिसका पुराना नाम ओंरुगल्लू था 1948 मे भारत मे मिल गया था यहां पर मंदिर एवं मस्जिद की सख्या बहुत ज्यादा है क्योंकि यहां पर मुस्लिम आबादी बहुत ज्यादा है.

वारंगल  के प्रमुख स्थान

1 :- हज़ार स्तनभ

2 :- वारंगल का किला

3 :- भद्रकाली मंदिर

4 :- रामप्पा मंदिर

निज़ामबाद :- निज़ामबाद तेलंगाना का प्रमुख शहर है  यह हैदराबाद के उत्तर पश्चिम मे 170 km की दुरी पर स्थित है इसे इंद्रपूरी के नाम से भी जाना जाता है यहाँ पर राष्ट्रकुटो का शासन रहा है

निज़ामबाद मे घूमने के लिए प्रमुख स्थान

1 हनुमान मंदिर

2 नीला काटेंश्वर मंदिर

3 सरस्वती मंदिर

3 रघुनाथ मंदिर

महाराष्ट्र

महाराष्ट्र देश का एक महत्वपूर्ण राज्य है जो की दक्षिण पश्चिम मे स्थित है। यह भी समुद्री सीमा से लगा हुआ राज्य है वर्तमान मे यह देश के सबसे नगरीय राज्य है यहा पर सबसे ज्यादा नगर है महाराष्ट्र की राजधानी मुंबई है जो की समुद्री तट पर बसा भारत का सबसे बड़ा नगर है महाराष्ट्र अपने उद्योग एवं व्यापारिक महत्व के लिए जाना जाता है।

महाराष्ट्र

महाराष्ट्र  देश के सबसे अग्रणी राज्यों मे से एक है। महाराष्ट्र  के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे है। महाराष्ट्र  मे कई जगह ऐसी है जहाँ पर घूमने के लिए आप जा सकते है। महाराष्ट्र मे मराठी भाषा बोली जाती है।

महाराष्ट्र के प्रमुख शहर :-

मुंबई :- मुंबई देश का सबसे बड़ा शहर  है वही प्रदेश की राजधानी है मुंबई प्राचीन काल से ही व्यापार का केंद्र रहा है मुंबई समुद्री किनारे स्थित एक बहुत ही खूबसूरत शहर  है. मुंबई देश की आर्थिक राजधानी के रूप मे जाना जाता है। मुंबई देश का आधुनिक नगर है वही इसे मायानगरी के रूप मे भी जाना जाता है। मुंबई को फ़िल्म सिटी के रूप मे भी जाना जाता है मुंबई मे ही इंडिया गेट स्थित है एवं यहा पर अनेक स्थान है जहाँ पर घूमने जा सकते है।

पुणे :- पुणे भी महाराष्ट्र का एक खूबसूरत शहर है। यहां पर महाराष्ट्र का सबसे बड़ा कारखाने स्थित है। पुणे अपने व्यापार के लिए जाना जाता है. पुणे  भी अपने लिए एक अलग महत्व रखता है यहां पर भी मंदिर की सख्या है। पूने मुंबई से कुछ किलो मीटर की दुरी पर स्थित है।

नागपुर :- नागपुर महाराष्ट्र का एक उद्योगिक एवं व्यापारिक नगर है नागपुर का अलग महत्व है नागपुर को आधुनिक योजना के आधार पर तैयार किया जा रहा है। नागपुर मे हाल ही हाई वे का उद्घाटन किया गया है यहां पर अपनी अलग संस्कृति के लिए जाना जाता है।

हरियाणा

हरियाणा देश का एक संपन्न राज्य है. हरियाणा की सीमा पंजाब, दिल्ली, हिमाचल प्रदेश, जम्मू कश्मीर से लगती है हरियाणा की राजधानी चंडीगढ़ है वही इसके मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर हो। वही यहां के राज्यपाल सत्यदेव नारायण आर्य है.इसकी स्थापना 1 नवम्बर 1966 को हुई थी. हरियाणा का सबसे बड़ा शहर फरीदाबाद है वही यहां पर गुरुग्राम भी जो को मोटरबाइक के लिए पुरे भारत मे प्रसिद्ध है. हरियाणा के गुरुग्राम , पानीपत एवं सोनीपत भी अन्य प्रमुख शहर है।

हरियाणा

हरियाणा के प्रमुख शहर :-

चंडीगढ़ :- चंडीगढ़ हरियाणा की राजधानी होने के साथ साथ एक व्यापारिक शहर भी है. हरियाणा हमेशा से एक बड़ा शहर रहा है चंडीगढ़ पंजाब एवं हरियाणा की संयुक्त राजधानी है। चंडीगढ़  मे ही राज्य का उच्च न्यायलय स्थित है। देवी मंदिर, रॉक गार्डन,रोज़ गार्डन आदि यहां के प्रमुख पर्यटन स्थल है।

फरीदाबाद :- फरीदाबाद पंजाब एवं हरियाणा का वित्तीय केंद्र के रूप मे जाना जाता है फरीदाबाद आपने क़ृषि उत्पादन प्रमुख रूप से मेंहदी के उत्पादन के लिए प्रसिद्ध है वही यहां पर कई गुरुद्वारा एवं मंदिर भी स्थित है यहां के प्रमुख धार्मिक स्थल पोथी मला,सिंह सभा, संतो का गुरुद्वारा भी प्रसिद्ध है।

पानीपत :- पानीपत अपने कपड़ा एवं कालीन के लिए प्रसिद्ध है वही पानीपत का अपना इतिहास भी प्रसिद्ध है यहां पर पानीपत के तीन युद्ध भी लड़े गए थे पानीपत मे सोलार गेट मंदिर एवं काला अम्ब मंदिर यहां के दर्शनीय स्थल है।

गुरुग्राम :- गुरुग्राम देश का शॉपिंग माल है यह अपने बाजार के लिए पुरे भारत मे प्रसिद्ध है.गुरुग्राम आपमें आउट सोर्सिंग हब एवं ऑफ शोर के लिए जाना जाता है इस शहर को देश की माल कैपिटल के रूप मे जाना जाता है।

हिमाचल प्रदेश

हिमाचलप्रदेश एक खूबसूरत राज्य है भारत के पूर्व मे स्थित है वही इसकी सीमा चाइना उत्तरप्रदेश हरियाणा से लगती है इसकी राजधानी शिलांग हो जो एक खूबसूरत शहर है जो की पिकनिक एवं हनीमून के लिए जाना जाता है।हिमाचल के मुख्यमंत्री  सुखविंदर सिंह सुक्खहै वही यहां के राज्यपाल शिव प्रताप शुक्ला है।

हिमाचल प्रदेश

हिमाचल प्रदेश के प्रमुख शहर :-

शिमला :- हिमाचल प्रदेश की राजधानी क्षेत्र होने के साथ साथ शिमला एक बहुत ही खूबसूरत शहर है जो की अपनी पर्वतीय चोटी एवं बर्फीले स्थानों के लिए जाना जाता है यहां पर चीड,ताड़ एवं देवदर के पैड़ो ने यहां के वातावरण को खूबसूरत बनाया हुआ है। शिमला पर्यटको का बो स्थान है जो देश ही नहीं बल्कि विदेशी पर्यटको का प्रमुख स्थान रहे है.

धर्मशाला :- प्रकृति एवं संस्कृति का जहाँ मिलन होता उसी स्थान को धर्मशाला कहा जाता है धर्मशाला हिमाचल प्रदेश का आकर्षक शहर जो की समुद्र तल से 1475 मीटर ऊंचा है।आप यहां पर गर्मी की पिकनिक हेतु यहां पर आ सकते है यहां पर धोलाधर पर्वत स्थित है वही धर्मशाला मे क्रिकेट का एक मैदान भी है जहाँ पर इंटरनेशनल क्रिकेट खेला जाता है।

बिहार

विहार देश का प्राचीन एवं ऐतिहासिक राज्य है प्राचीन कॉल से यह जाना जाता है.विहार मे नालंदा विश्व विद्यालय है यहां पर गौतम बुद्ध ने अपना जीवन व्यतीत किया ह। विहार की राजधानी पटना है वही इसके मुख्यमंत्री नीतेश कुमार है। विहार संस्कृति एवं कला का केंद्र रहा है विहार एक पिछड़ा हुआ राज्य है लेकिन यह तेज़ी से विकास कर रहा है। सबसे काम साक्षरता वाला राज्य है। पटना विहार का सबसे बड़ा शहर है।

बिहार

बिहार के प्रमुख शहर :- 

पटना :- पटना विहार का एक शाही शहर है एवं वहा की राजधानी भी है जिसका प्राचीन नाम पाटलिपुत्र था। पटना शाही अतीत के साथ भारत के सबसे प्राचीन शहरो मे से एक है विहार आरम्भ से ही राजधानी क्षेत्र रहा है.पटना मे बहुत से पर्यटन स्थल रहे है जहा आप घने के लिए जा सकते है।

नालंदा :- नालंदा विहार का एक प्राचीन है विहार के इस शहर को प्राचीन कॉल से शिक्षा का केंद्र मना जाता है विश्व के सबसे प्राचीन विश्व विद्यालय के स्मारक आज भी यहां पर स्थित है जो को बोधगया से 62 km की दुरी पर स्थित है वही या पटना से 90 km की दुरी पर स्थित है। नालंदा वर्तमान मे एक खूबसूरत शहर है जो अब विकास के पथ पर है।

गया :- गया हिन्दुओ का एवं बौद्ध का केंद्र है इस शहर मे ही बौद्ध का विकास हुआ था। विहार मे बोधगया शहर विश्व के सबसे प्राचीन एवं पवित्र शहर मे से एक है। इस शहर का महाबोधि मंदिर अपने बस्तुकाला के लिए प्रसिद्ध है यही पर जैन धर्म के संस्थापक ने अपना अधिकांश समय बिताया था।

राजगीर :- विहार का राजगीर शहर अपने ऐतिहासिक महत्व के लिए जाना जाता है यह प्राचीन मे मगध राज्य की राजधानी हुआ करता था. राजगीर राक टाक गुफाओ,बौद्ध किलो शैल शिलाओ एवं हिन्दू एवं जैन मंदिर के लिए जाना जाता है रेलिक सपूत एवं कुटागारसाला  राजगीर के प्रमुख दर्शनीय स्थल है।

सिक्किम

सिक्किम भारत के पुर्वोत्तर भाग मे स्थित एक पर्वतीय राज्य है अगूटे के आकर का यह राज्य पश्चिम मे नेपाल उत्तर पूर्व मे चाइना से लगा हुआ  है दक्षिण मे भूटान से लगा हुआ है इसकी स्थापना 16 माई 1975 हुई थी वही इसकी राजधानी गंगटोक है।इसके मुख्यमंत्री प्रेम सिंह तवंग है वही यहां के राज्यपाल गंगा प्रसाद है सिक्किम मे विधानसभा की 32 सीटें है वही लोकसभा मे 1 सीट प्राप्त है।वही सिक्किम मे 6 जिले भी है। गंगटोक यहां का सबसे बड़ा शहर  है।

सिक्किम

सिक्किम के प्रमुख शहर :-

गंगटोक :- गंगटोक सिक्किम का सबसे बड़ा शहर एवं वहा की राजधानी है जो की खूबसूरत हिल स्टेशन है यह हिमालय के पूर्वी भाग शिवालिक मे स्थित है.गंगटोक 1437 मीटर की ऊचाई पर स्थित है गंगटोक सिक्किम क सबसे बड़ा उद्योगिक नगर है.।

पेलिंग :- पेलिंग सिक्किम के पश्चिम जिले का एक शहर है पेलिंग 2150 की ऊचाई पर स्थित है यह जिला गिजिंग के मुख्यालय से 10 km की दुरी पर स्थित है।

युक्सोम :- युकसोम पश्चिम सिक्किम जिला का एक ऐतिहासिक शहर है यह सिक्किम की पहली राजधानी थी इसे 1962 मे स्थापित किया गया था।

रांगपो :- रांगपो पूर्वी सिक्किम का एक शहर है जो की पश्चिम बंगाल की सीमा पर बसा हुआ है यह तीसता नदी के किनारे स्थित है यह NH 10 पर सिक्किम का पहला शहर है जो की सिलीगुड़ी से गंगटोक को जोड़ता है।

त्रिपुरा

त्रिपुरा भारत का एक उत्तरपूर्वी  छोटा  राज्य है यह भारत का सबसे तीसरा छोटा राज्य है जो की उत्तर दक्षिण मे बंगलादेश एवं पूर्व मे असम एवं मिजोरम से लगा हुआ है।अगरतला सिक्किम की राजधानी है इसकी स्थापना 21 जनवरी 1972 को हुई थी।यहां के मुख्यमंत्री मानिक शाहा है एवं यहां के राज्यपाल रमेश बेस है। सबसे बड़ा शहर अगरतला है।

त्रिपुरा

त्रिपुरा के प्रमुख शहर

अगरतला :- अगरतला राजधानी होने के कारण त्रिपुरा का सबसे बड़ा शहर है अगरतला गुवाहती के बाद उत्तरपूर्वी भारत का दूसरा सबसे बड़ा शहर है। जो नगरपालिका एवं जनसंख्या दोनों मे है अगरतला भारत के तेजी से विकास करता हुआ एक शहर है वही यहां पर मंदिर एवं चर्च भी है।

बेलोनिया :- बेलोनिया दक्षिण त्रिपुरा के जिले का एक अधिसूचित शहर है यह दक्षिण त्रिपुरा  जिले का मुख्यालय है यह उदयपुर के माध्यम से राष्ट्रीय राजमार्ग 44 द्वारा अगरतला के साथ जुड़ता है.जो महलो और राजनगरो सोमपुरा एवं विश्रामगृह के रूप मे जाना जाता है।वेलोनिया बंगालदेश की सीमा पर स्थित है

धर्मनगर :- धर्मनगर एक शहर एवं नगरपालिका एवं जो की उत्तरी त्रिपुरा का नगर है धर्मनगर आधुनिक प्राकृतिक खूबसूरत शहर है धर्मनगर अपने महलो एवं स्मारको के लिए पुरे भारत मे प्रसिद्ध है यह शहर के प्राचीन नगर मे से एक हो।

मेघालय

मेघालय भारत का पूर्वत्तर भारत का राज्य है जिसका शाब्दिक अर्थ है बदलो का घर  2016 की जनसंख्या के अनुसार 32,11,474 है। मेघालय की स्थापना 1 अप्रैल 1970 को हुई थी इसकी राजधानी शिलांग है जो की वहा का सबसे बड़ा शहर है मेघालय की विधानसभा मे 60 क्षेत्र है।

मेघालय

मेघालय के प्रमुख शहर

शिलांग :- मेघालय का एक सुन्दर एवं शांत शहर है जिसे पूर्व के स्कैटलैंड के रूप मे जाना जाता है यह समुद्र तल से 1500 मीटर की ऊचाई पर स्थित है शिलांग अपनी खूबसूरती से यात्रियों को मुग्ध कर देता है शिलांग मेघालय की राजधानी होने के साथ एक संस्कृत एवं विरासत का शहर है जो की प्रकतिक दृश्य  से खूबसूरत है।

चेरापूंजी :- चेरापूंजी मेघालय का एक बहुत ही खूबसूरत शहर है जो की शिलांग स्वागत 56 किलोमीटर की दुरी पर स्थित है चेरापूंजी विश्व के सबसे वर्षा वाले स्थानों के रूप मे जाना जाता है. इसके साथ साथ यहां पर स्मारक एवं गुफाओ के लोए भी जाना जाता है।

राजस्थान

देश का सबसे बड़ा राज्य होने का दर्ज़ा प्राप्त है। राजस्थान अपने पहनावे एवं राजपुताना संस्कृति के लिए जाना जाता है राजस्थान का अपना इतिहास भी अपनी अलग पहचान के लिए जाना जाता है वही राजस्थान का थार मरुस्थल भी वहा की पहचान है राजस्थान की सीमा पाकिस्तान, पंजाब एवं मध्यप्रदेश, गुजरात से लगती हो। यहां का खान पान एवं रहन सहन ही इसे सबसे अलग बनता है। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत है वही यहां की राजधानी जयपुर है। राजस्थान के प्रमुख शहर उदयपुर, जयपुर अजमेर आदि है।

राजस्थान

राजस्थान के प्रमुख शहर :- 

जयपुर :- पुरे भारत मे पिंकसिटी के रूप मे जाना जाता है जयपुर राजस्थान की राजधानी होने के साथ साथ वहा का सबसे बड़ा नगर भी है राजस्थान मे जयपुर अपने किलोमीटर एवं संस्कृति के लिए जाना जाता है जयपुर मे बनी साडिया पुरे भारत मे प्रसिद्ध है वही यहां के प्रमुख स्थान हवा महल, म्यूजिक, किला एवं स्मारक है।

अजमेर :- अजमेर राजस्थान का एक खूबसूरत शहर जो की अपनी कला एवं संस्कृति के जाना जाता है वही इसका समरिक महत्व है अजमेर मे ही मुस्लिम धर्म की प्रसिद्ध दरगाह शेख मुईनुद्दीन की दरगाह है जहाँ पर सभी धर्म के लोग अपने लिए दुआ मांगने आते है।

उदयपुर :- उदयपुर भी राजस्थान का एक बड़ा शहर है जो की उद्योग धंधों का केंद्र है उदयपुर अपने किले एवं स्मारक के लिए जाना जाता है यहां पर बना किला ही यहां की खूबसूरती का सबसे बड़ा उदाहरण है जो की पर्यटको का प्रमुख केंद्र है

भारत के केंद्र शासित प्रदेश

भारत मे पहले केंद्र शासित प्रदेश की सख्या 9 हुआ करती थी।भारत मे केंद्र शासित प्रदेश की सख्या कुल 8 है धारा 370 हटने के बाद जम्मू – कश्मीर एवं लद्दाख को नए केंद्र शासित प्रदेश के रूप मे बनाया गया था जिसकी राजधानी जम्मू एवं लेह है।

केंद्र शासित प्रदेशराजधानीराज्यपाल/गवर्नरमुख्यमंत्री
अंडमान और निकोबार द्वीपसमूहपोर्ट ब्लेयरश्री देवेंद्र कुमार जोशी
चंडीगढ़चंडीगढ़श्री. वी.पी. सिंह बदनौर (प्रशासक)
दादर और नगर हवेली और दमन और दीवदमनश्री प्रफुल्ल खौदा पटेल
दिल्लीनई दिल्लीश्री अनिल बैजलअरविंद केजरीवाल
जम्मू और कश्मीरश्रीनगर – जम्मूश्री मनोज सिन्हा
लद्दाखलेह – कारगिलश्री राधा कृष्ण माथुर
लक्ष्यद्वीपकवरत्तीश्री प्रफुल्ल खौदा पटेल
पुडुचेरीपांडिचेरीतमिलसई सुन्दराजनएन रंगासामी
Bharat mein kul kitne Rajya hain

अंडमान निकोबार दीप समूह

अंडमान निकोबार दीप समूह

अंडमान निकोबार दीप समूह बंगाल को खाड़ी मे स्थित भारत का सबसे बड़ा दीप समूह है जो की भारत का केंद्र शशित प्रदेश है अंडमान निकोबार दीप समूह 6 डिग्री और 6 डिग्री और 14 अक्षांश और 92 और 94 डिग्री देशांतर के बीच स्थित है उत्तर में स्थित दीप को अंडमान दीप समूह के नाम से जाना जाता है जबकि दक्षिण में स्थित द्वीपों को निकोबार दीप समूह के नाम से जाना जाता है।

दीप जलवायु को आद्र उष्णकटिबंधीय जलवायु के रूप में जाना जाता है अंडमान निकोबार दीप समूह में उत्तरकाशी मानसून से वर्षा होती है। यहां पर अधिकतम वर्षा मई से लेकर दिसंबर माह के बीच में होती है क्या की जनसंख्या 400000 से ज्यादा है यहां की राजधानी पोर्ट ब्लेयर है यहां पर हिंदी तमिल निकोबार बांग्ला भाषा बोली जाती है अंडमान निकोबार में 3 जिले हैं पहिया के उपराज्यपाल देवेंद्र कुमार जोशी है।

अंडमान निकोबार दीप समूह के प्रमुख शहर :-

पोर्ट ब्लेयर:- पोर्ट ब्लेयर केंद्र प्रदेश अंडमान निकोबार दीप समूह की राजधानी है। यह ऐतिहासिक नगर दक्षिण मार्ग की दिशा में स्थित है. पोर्ट ब्लेयर में 9 सेना का प्रशिक्षण केंद्र एवं इतिहास से मारते हैं। पोर्ट ब्लेयर एक खूबसूरत शहर है जो अपनी सुंदरता के लिए जाना जाता है 

निकोबार :- निकोबार भारत के केंद्र प्रदेश अंडमान निकोबार दीप समूह का एक जिला है इसका जिला मुख्यालय निकोबार के मलक्का वस्ती में है यहां पर निकोबार एवं हिंदी भाषा बोली जाती है।

दादर एवं नगर हवेली एवं दमन और दीव

दादर एवं नगर हवेली एवं दमन और दीव

हाल ही में सरकार ने दादर एवं नगर हवेली और दमन और दीव को मिलाकर एक नया केंद्र प्रदेश बनाया है 1954 से लेकर 61 तक यहां पर मुक्त मुक्त कार्य किए गए लेकिन बाद में से भारत में मिला लिया गया बाद में से 11 अगस्त 1961 को भारतीय संघ में मिला लिया गया इसे भारत में केंद्र शासित प्रदेश के रूप में प्रशाशित किया जा रहा है। यहां की जनसंख्या 400000 से ऊपर है. यहां की राजधानी सिलवासा है यहां पर गुजराती और हिंदी भाषा बोली जाती है इसका कुल एरिया 94 स्क्वायर किलोमीटर है

दादर एवं नगर हवेली के प्रमुख शहर :-

सिलवासा :- सिलवासा भारत के दादर एवं नगर हवेली एवं दमन और दीव की राजधानी है। यह दादर एवं नगर हवेली के जिले में स्थित है अरब सागर के तट पर स्थित यह खूबसूरत शहर है इसका कॉलेज एरिया 16 किलोमीटर है यहां पर गुजराती हिंदी मराठी बोली जाती है।

दादर एवं नगर हवेली  :- दादर एवं नगर हवेली यहां की प्रमुख जिले है वहां पर मराठी और हिंदी भाषा बोली जाती है यहां का मुख्यालय सिलवासा में है।

लक्षदीप

लक्षदीप

लक्षदीप भारत का सबसे छोटा केंद्र शासित प्रदेश है ऐसा माना जाता है कि यहां के मूल निवासी हिंदू है बाद में अरब अरब लोगों के प्रभाव में आ जाने से है मुस्लिम राज्य बन गया 1956 में दीप को मिलाकर इसका निर्माण किया गया यह केंद्र सरकार द्वारा शासित राज्य है. इसकी राजधानी कवरती है यहां पर मलयालम भाषा बोली जाती है।

कवारती :- कवारती लक्षदीप की राजधानी है यह केरल से 360 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है यहीं पर ही लक्षदीप का मुख्यालय है यहीं पर रे खारे पानी की लैगून झील स्थित है यहां पर  मलयालम एवं अंग्रेजी भाषा बोली जाती है।

पुडुचेरी

पुडुचेरी

पांडिचेरी में पांडिचेरी, माहे, और यमन शामिल है. यह दक्षिण भारत मे बिखरा राज्य है यहां की राजधानी पांडुचेरी है जो की फ्रांसीसी का मुख्यालय था 1 नवंबर 1954 को उसका विलय भारत में हुए. यहां पर तमिल तेलुगू फ्रेंच इंग्लिश भाषा बोली जाती है।

 पुडुचेरी  के प्रमुख शहर  :-

पांडुचेरी  :- पांडुचेरी खूबसूरत शहर है जो भी यहां की राजधानी है पहले यह फ्रांस का उपनिवेशवाद था यहां पर मलयालम तेलुगु फ्रेंच भाषा बोली जाती है। यहां के बीच  मुख्य रूप से पसंद है।

चंडीगढ़

चंडीगढ़

चंडीगढ़ पंजाब एवं हरियाणा की संयुक्त राजधानी है चंडीगढ़ एक आधुनिक विकसित शहर है जो भी अपनी उद्योग के लिए जाना जाता है चंडीगढ़ शिवालिक पहाड़ियों की चोटी के बीच में स्थित है इसे सिटी ब्यूटीफुल के नाम से भी जाना जाता है इसकी राजधानी चंडीगढ़ है यहां पर पंजाबि एवं हिंदी बोली जाती है। यहां का प्रमुख शहर चंडीगढ़ ही है

लद्दाख

लद्दाख

लद्दाख को 31 अक्टूबर 2019 को राज्य की दर्जा हटा कर केंद्र प्रदेश बना दिया गया.  देश का सबसे बड़ा केंद्र शासित प्रदेश है लद्दाख में लेह एवं कारगिल 2 जिले शामिल हैं लद्दाख अपनी पहाड़ी क्षेत्र में जाना जाता है यहां की राजधानी  लेह है 

 लद्दाख के प्रमुख शहर :-

लेह :- लेह लद्दाख की राजधानी है यह लद्दाख का सबसे बड़ा शहर है यहां पर जिले का मुख्यालय भी है यहां पर लेह उर्दू हिंदी बोली जाती.

कारगिल :- यह खूबसूरत शहर है यह लद्दाख का जिला है यही पर जिला मुख्यालय स्थित है सुरु नदी के तट पर स्थित है यहां पर कारगिल उर्दू हिंदी बोली जाती है।

जम्मू कश्मीर

जम्मू कश्मीर

जम्मू और कश्मीर को 2019 मे अलग करके नया केंद्र प्रदेश बनाया गया था.  जम्मू और कश्मीर  की राजधानी कश्मीर है. इसे धरती का स्वर्ग कहा जाता है इसकी सीमा पाकिस्तान और चीन से लगती है। धारा 370 हटाने के बाद इसे विशेष राज्य का दर्जा हटा दिया गया। यहां पर भी विधानसभा है 

 जम्मू कश्मीर के प्रमुख शहर :-

जम्मू :- जम्मू भारत के जम्मू और कश्मीर केंद्र प्रदेश का एक बड़ा जिला है यह जम्मू संभाग का सबसे बड़ा शहर है यह जम्मू और कश्मीर की शीतकालीन राजधानी है यह तभी नदी के तट पर स्थित है इसे मंदिरों का शहर भी कहते हैं।

कश्मीर :- कश्मीर जम्मू और कश्मीर का उत्तरी भौगोलिक भाग है कश्मीर अपनी खूबसूरत पहाड़ीयों के लिए जाना जाता है कश्मीर कश्मीर का विलय भारत में सबसे बाद में हुआ था  कश्मीर यहां का एक बहुत बड़ा शहर है यहां पर उद्योग केंद्र स्थापित किए जा रहे हैं।

दिल्ली

दिल्ली

दिल्ली भारत की राजधानी एवं केंद्र शासित प्रदेश मे सबसे बड़ा केंद्र शासित प्रदेश है दिल्ली को राष्ट्रीय नगर भी कहा जाता है। दिल्ली देश के चार महानगरों मे एक महानगर है दिल्ली के मुख्यमंत्री श्री अरविन्द केजरीवाल जी है दिल्ली प्राचीन कल से भारत की राजधानी के रूप मे जाना जाता है यहां पर मुगलो का अधिकार रहा था। यहा विधानसभा पर विधानसभा भी मौजूद है।

दिल्ली के जिले 

दिल्ली के जिले

मध्य दिल्ली जिला

उत्तर दिल्ली जिला

दक्षिण दिल्ली जिला

पूर्वी दिल्ली जिला

शाहदरा (दिल्ली)

उत्तर पूर्वी दिल्ली जिला

दक्षिण पश्चिम दिल्ली जिला

नई दिल्ली जिला

Conclusion

दोस्तों हमने इस आर्टिकल मे बताया भारत में कुल कितने राज्य एवं केंद्र शासित प्रदेश हैं यह उनकी जानकारी हमने इस आर्टिकल में दी है अगर आपको कोई डाउट हो तो हमें कमेंट करके बताएं हम आपके कमेंट का रिप्लाई जरूर देंगे।

FAQ

भारत में कुल कितने राज्य एवं केंद्र शासित प्रदेश हैं

भारत में कुल 28 राज्य एवं आठ के  केंद्र प्रदेश है।

28  राज्य कौन सा था?

तेलंगाना भारती संघ का 28 वा राज्य है।

 भारत के नए केंद्र शासित प्रदेश कौन से हैं?

जम्मू एवं कश्मीर लद्दाख भारत के नए केंद्र प्रदेश है।

दिल्ली के सीएम कौन है?

श्री अरविंद केजरीवाल दिल्ली के सीएम है।

किन केंद्र शासित प्रदेशों में विधानसभा क्षेत्र हैं?

लद्दाख और जम्मू कश्मीर, दिल्ली दिल्ली में विधानसभा क्षेत्र  है।

Also Read These Post

टिफिन सर्विस बिजनस कैसे स्टार्ट करे | (Tiffin Service Business Kaise Start Karen)

Which Is the Best Engineering Course

How to Start Blogging in India

Play Store ki ID kaise banaye

Keibul Lamjao National Park

Surdas Ka Jivan Parichay

Online PAN Card Kaise Banaye| ऑनलाइन पेन कार्ड कैसे बनाए

Jaipur me Ghumne ki Jagah

How to Get a Proxy for WhatsApp

How to earn money on Facebook $500 every day

How to Delete a Pinterest Account

में शिवम् राजपूत कंटेंट राइटर हू, मुझे कंटेंट राइटिंग में एक साल का अनुभव है। में टेक ,न्यूज़ ,ट्रेवल ,स्पोर्ट ,जॉब ,पोलीटिक ,एजुकेशन ,हेल्थ आदि विषयो में रूचि रखता हु | में बीए ग्रेजुएट हु और मुझे नई नई चीजे एक्स्प्लोर करना अच्छा लगता है |

Sharing Is Caring:

Leave a Comment